--Advertisement--

इस साइको किलर ने गला काटकर ली अपनी जान, 30 महिलाओं के रेप का था दोषी

तमिलनाडु और कर्नाटक में 30 से ज्यादा रेप और 15 हत्याओं के दोषी एम जयशंकर ने सुसाइड कर ली है।

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 05:42 AM IST
तमिलनाडु और कर्नाटक में 30 से ज्यादा रेप और 15 हत्याओं के दोषी एम जयशंकर ने जेल में सुसाइड कर लिया। तमिलनाडु और कर्नाटक में 30 से ज्यादा रेप और 15 हत्याओं के दोषी एम जयशंकर ने जेल में सुसाइड कर लिया।

नई दिल्ली. तमिलनाडु और कर्नाटक में 30 से ज्यादा रेप और 15 हत्याओं के दोषी एम जयशंकर ने सुसाइड कर ली है। उसने बेंगलुरू के बाहरी इलाके स्थित परप्पन अग्रहरा जेल में टूटे हुए शेविंग ब्लेड से अपना गला रेत लिया। मंगलवार रात करीब 2:15 बजे जेल के दूसरे कैदियों ने शंकर को खून से सना देखा और अधिकारियों को सूचना दी। जेल प्रशासन ने उसकी मौत के मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। एक बार जेल से भाग चुका था शंकर, दोबारा पकड़ा गया....

- जयशंकर एक बार जेल की दीवार फांदकर भाग चुका था। उसे 5 सितंबर 2013 को दोबारा गिरफ्तार किया गया था।

- तमिलनाडु के सलेम जिले के इडाप्पडी का रहने वाला जयशंकर ट्रक ड्राइवर था।

- वह पुलिस की नजर में 23 अगस्त 2009 को कॉन्स्टेबल एम जयमणि की रेप के बाद हत्या करने की घटना के बाद आया।

- जयमणि तत्कालीन उपमुख्यमंत्री एमके स्टालिन के दौरे की सुरक्षा-व्यवस्था में तैनात थीं।

- जयशंकर को पुलिस ने 19 अक्टूबर 2009 को गिरफ्तार किया। तब जांच में पता चला कि वह 13 महिलाओं की रेप के बाद हत्या कर चुका था।

- 18 मार्च 2011 को वह कोर्ट में पेशी से वापसी के दौरान पुलिस की पकड़ से भाग निकला। उसके बाद भी शंकर ने रेप और हत्या की घटनाएं जारी रखीं।

- उसे फिर 4 मई 2011 को बीजापुर के पास से पकड़ा गया था।

नाई से ब्लेड चुराया था...

- जेल अधिकारियों ने के मुताबिक, जयशंकर ने एक नाई से ब्लेड चुराया था। किसी ने भी उसे अपना गला काटते हुए नहीं देखा है। उस पर कन्नड़ फिल्म alt147साइको शंकर' बनाई गई थी। वह अकेली महिलाओं को झांसे में लेकर उनके बाद रेप करता था और उसके बाद उनकी हत्या कर देता था।

35 महिलाओं से रेप और 15 मर्डर का केस दर्ज था। 35 महिलाओं से रेप और 15 मर्डर का केस दर्ज था।
जयशंकर को पुलिस ने 19 अक्टूबर 2009 को गिरफ्तार किया। तबसे वो सलेम की जेल में बंद था। जयशंकर को पुलिस ने 19 अक्टूबर 2009 को गिरफ्तार किया। तबसे वो सलेम की जेल में बंद था।
18 मार्च 2011 को वह कोर्ट में पेशी से वापसी के दौरान पुलिस की पकड़ से भाग निकला। उसके बाद भी शंकर ने रेप और हत्या की घटनाएं जारी रखीं। उसके बाद फिर से उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। 18 मार्च 2011 को वह कोर्ट में पेशी से वापसी के दौरान पुलिस की पकड़ से भाग निकला। उसके बाद भी शंकर ने रेप और हत्या की घटनाएं जारी रखीं। उसके बाद फिर से उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।