Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Earthquake Tremors Felt In Taiwan

ताइवान में 6.4 तीव्रता के भूकंप से अफरा-तफरी, होटल गिरने से कई लोग फंसे

एक बहुमंजिला होटल की इमारत झुक गई, जिसमें कई लोग फंसे हुए हैं।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 07, 2018, 12:17 AM IST

ताइवान में 6.4 तीव्रता के भूकंप से अफरा-तफरी, होटल गिरने से कई लोग फंसे

ताइपे. ताइवान के ईस्टर्न हिस्से में मंगलवार देर रात को तेज भूकंप आया। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.4 मैग्नीट्यूड मापी गई। भूकंप के असर से कई इमारतें गिर गई, जिससे 4 लोगों की मौत हुई है। 225 लोग जख्मी हुए हैं, जबकि 145 लोग लापता हैं। कई मकान गिरने की खबर है। भूकंप स्थानीय समय के मुताबिक 11:50 बजे आया।

10 मंजिला बिल्डिंग के मलबे में कई लोग फंसे

अमेरिकी ज्योग्राफिकल सर्वे के मुताबिक, रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.4 मापी गई। इसका केंद्र बंदरगाह शहर हुआलिएन से ईस्टनॉर्थ में 21 किमी दूर जमीन में 9.5 किमी की गहराई में था। भूकंप से हुआलिएन शहर के मार्शल होटल की 10 मंजिला बिल्डिंग का ग्राउंड फ्लोर गिर गया और बाकी के फ्लोर लटक गए। मीडिया एजेंसी के मुताबिक, इसके मलबे में 30 लोग फंसे हैं। बता दें कि समुद्र तट पर बसा हुआलिएन शहर ताइवान का फेमस टूरिस्ट स्पॉट है, जहां करीब 1 लाख लोग रहते हैं।

ताइवान के प्रेसिडेंट ने कही राहत और बचाव कामों में तेजी लाने की बात

ताइवान के प्रेसिडेंट ऑफिस से जारी बयान के मुताबिक, ताइवान प्रेसिडेंट साइ इंग वेन ने कैबिनेट और रिलेटेड मिनिस्ट्रीज से तुरंत राहत और बचाव कामों में तेजी लाने को कहा है।

रविवार से भूकंप के 100 छोटे झटके आ चुके हैं इस इलाके में

- इस इलाके में रविवार से भूकंप के 100 छोटे झटके आ चुके हैं। हालांकि, किसी तरह की सुनामी की कोई अलर्ट नहीं था। ताइवान के ताइनान में दो साल पहले इतनी ही तीव्रता के भूकंप में 100 लोग मारे गए थे। वहीं 1999 में 7.6 की तीव्रता के आए भूकंप में 2400 लोग मारे गए थे।

क्यों आता है भूकंप?

- पृथ्वी के अंदर 7 प्लेट्स हैं जो लगातार घूम रही हैं। जहां ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है। बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं। जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं। नीचे की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है। डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है।
- बता दें कि ताइवान दो टेक्टॉनिक प्लेट्स के जंक्शन पर बसा हुआ है। इसके चलते यहां आए दिन भूकंप आते रहते हैं।
- साल 1999 में ताइवान में भूकंप ने काफी तबाही मचाई थी। उस दौरान 7.6 मैग्नीट्यूट के भूकंप में 2400 लोग मारे गए थे।

कितनी तबाही ला सकता है भूकंप?

रिक्टर स्केलअसर
0 से 1.9सिर्फ सीज्मोग्राफ से ही पता चलता है।
2 से 2.9हल्का कंपन।
3 से 3.9कोई ट्रक आपके नजदीक से गुजर जाए, ऐसा असर।
4 से 4.9खिड़कियां टूट सकती हैं। दीवारों पर टंगी फ्रेम गिर सकती हैं।
5 से 5.9फर्नीचर जैसा भारी सामान तक हिल सकता है।
6 से 6.9इमारतों की नींव दरक सकती है। ऊपरी मंजिलों को नुकसान हो सकता है।
7 से 7.9इमारतें गिर जाती हैं। जमीन के अंदर पाइप फट जाते हैं।
8 से 8.9इमारतों सहित बड़े पुल भी गिर जाते हैं।
9 या उससे ज्यादा9 और उससे ज्यादा पूरी तबाही। कोई मैदान में खड़ा हो तो उसे धरती लहराते हुए दिखेगी। समंदर नजदीक हो तो सुनामी

- भूकंप में रिक्टर पैमाने का हर स्केल पिछले स्केल के मुकाबले 10 गुना ज्यादा ताकतवर होता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×