--Advertisement--

ये दोनों प्लेयर गुजारे के लिए करते थे ये काम, एक साथ एक्सीडेंट में हुई मौत

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर रविवार सुबह हुए कार एक्सीडेंट में 5 पावर लिफ्टिंग खिलाड़ियों की मौत हो गई।

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 04:37 AM IST
हादसे में जान गंवाने वाले सक्षम यादव दो बार वर्ल्ड चैम्पियन रह चुका था। हादसे में जान गंवाने वाले सक्षम यादव दो बार वर्ल्ड चैम्पियन रह चुका था।

नई दिल्ली। दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर रविवार सुबह हुए कार एक्सीडेंट में 5 पावर लिफ्टिंग खिलाड़ियों की मौत हो गई। सभी खिलाड़ी स्विफ्ट कार में सवार होकर दोस्त रोहित का बर्थडे सेलिब्रेट करने ​जा रहे थे। इनमें से सक्षम को छोड़कर बाकी सभी खिलाड़ी गरीब परिवार से आते थे। वे तीमारपुर इलाके की संजय बस्ती में रहते हैं। ऐसे में इन खिलाड़ियों पर परिवार की जिम्मेदारी भी है। बावजूद इसके सभी ने अपने खेल के दम पर खुद की ही नहीं देश की भी पहचान बनाई।

सौरभ : गुजारे के लिए जिम में काम करता था
- हादसे में शिकार 18 साल का सौरभ अपने परिवार की आर्थिक मदद करने के लिए जिम में काम करता था।

- सक्षम के वर्ल्ड चैम्पियन बनने के बाद वह भी खेल से जुड़ गया और इनके साथ जिम में अभ्यास शुरू भी कर दिया था। इस समय वह स्थानीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले रहा था।

हरीश को नेशनल के लिए तैयार कर रहा था सक्षम
- सक्षम के नेतृत्व में ट्रेनिंग लेने वालों में सबसे होनहार 20साल का हरीश स्टेट लेवल चैम्पियनशिप में दिल्ली के लिए गोल्ड जीत चुका था।

- सक्षम इस बार नेशनल चैम्पियनशिप में गोल्ड के लिए हरीश को तैयार कर रहा था। हरीश भी आर्थिक मदद करने के लिए जिम में काम करता था।

हरीश सक्षम से नेशनल के लिए ट्रेनिंग ले रहा था। हरीश सक्षम से नेशनल के लिए ट्रेनिंग ले रहा था।
सौरभ भी सक्षम से ही ट्रेनिग ले रहा था। इसके साथ जिम में भी काम करता था। सौरभ भी सक्षम से ही ट्रेनिग ले रहा था। इसके साथ जिम में भी काम करता था।
यलों के बयान लेने अस्पताल पहुंची पुलिस, पर घायल बयान दे सकने की कंडीशन में नहीं थे। यलों के बयान लेने अस्पताल पहुंची पुलिस, पर घायल बयान दे सकने की कंडीशन में नहीं थे।