--Advertisement--

एकतरफा प्यार में लड़की को ससुराल से उठाया, घरवाले नहीं माने तो दूल्हा बने उसके भाई को बारात में ही गोली मारी

घोड़ी पर बैठे हुए दीपक पर पीछे से फायर किए। एक गोली दीपक के सिर में लगी और उसने देर रात अस्पताल में दम तोड़ दिया।

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 02:15 AM IST

नई दिल्ली. कलंदरी कॉलोनी में मंगलवार शाम को 21 साल के दीपक की शादी की खुशियां मातम में बदल गईं। दीपक की बहन के एकतरफा प्यार में पागल सिरफिरे आशिक ने उसे बीच बारात गोली मार दी। गोली दीपक के सिर में लगी और वो सीधा जमीन पर आ गिरा। परिजन ने उसे जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया जहां देर रात उसकी मौत हो गई।


- पुलिस के अनुसार, पेशे से कंडक्टर दीपक, मां राधा, भाई शिवा, भाभी राखी और दो बहनों सोनम-मीनाक्षी के साथ कलंदर कॉलोनी में रहता था।

- इलाके का कुख्यात बदमाश मांडू उसकी बहन सोनम से शादी करना चाहता था। मांडू सोनम के परिजन को इसके लिए कई बार धमका भी चुका था।

- इसके बाद सोनम के परिवार ने उसकी शादी सुल्तानपुरी के एक युवक के साथ कर दी। मांडू इसके बाद भी नहीं माना और शादी के दो दिन बाद ही सोनम को जबरन ससुराल से उठा लाया। तब से वह मायके में रहने लगी। बदमाश ने इसके बाद उसके परिवार पर कई बार शादी करने के लिए जोर डाला पर वे राजी नहीं हुए।

- मंगलवार को सोनम के भाई दीपक की बारात फरीदाबाद के लिए निकली तभी मांडू अपने साथी आदिल के साथ वहां आया और घोड़ी पर बैठे हुए दीपक पर पीछे से फायर किए। एक गोली दीपक के सिर में लगी और उसने देर रात अस्पताल में दम तोड़ दिया। वारदात के बाद से दोनों आरोपी फरार हैं।