Home | Union Territory | New Delhi | News | Government to affirm affidavit in Supreme Court on delhi sealing

351 सड़कें सीलिंग के दायरे में नहीं, सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देगी सरकार

16 मार्च को सदन में प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार को भेजेंगे

Bhaskar News| Last Modified - Mar 14, 2018, 04:11 AM IST

1 of
Government to affirm affidavit in Supreme Court on delhi sealing

नई दिल्ली. दिल्ली सरकार अगले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट के सामने 351 सड़कों से संबंधित हलफनामा रखने जा रही है। दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने मंगलवार को मीडिया से बातचीत में कहा कि इस सड़कों के मामले पर दिल्ली सरकार बीते डेढ़ माह से काम कर रही है। इसका प्रस्ताव तैयार कर डीडीए को भेजा था। वह लौटकर सरकार के पास आ गया है।


मंत्री राय ने कहा कि इसमें सुप्रीम कोर्ट का आॅर्डर है कि नोटिफिकेशन जारी करने से पहले इसे कोर्ट के सामने प्रस्तुत किया जाए। उसी आदेश में दिल्ली सरकार ने 351 सड़कों के नोटिफिकेशन का ड्राफ्ट तैयार कर लिया है। इसे  हलफनामा के साथ कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। 16 मार्च से दिल्ली विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है सदन के अंदर इस प्रस्ताव को पारित कर केंद्र सरकार को भेजा जाएगा।


2007 से लटका मामला
मास्टर प्लान 2021 के 2007 में लागू होने के होने के समय 351 सड़कों के नोटिफिकेशन का मामला अटका हुआ था। इससे इन सड़कों पर दुकान चलाने वाले पर सीलिंग की कार्रवाई की तलवार लटकी हुई थी। अब इसके नोटिफाई होने से इन सड़कों का मिश्रित उपयोग किया जा सकेगा। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा कि सर्वदलीय बैठक के दौरान 351 सड़कों पर भी चर्चा की गई है। सरकार इस पर तेजी से काम कर रही है। 351 सड़कें सीलिंग से बाहर हैं। इस मसले पर सरकार पूरी तैयार है। सोमवार तक इसका हलफनामा सुप्रीम कोर्ट में जमा करवा देंगे।

 

90% बाजार बंद, 1800 करोड़ का कारोबार प्रभावित

सीलिंग के विरोध में व्यापारियों के ‘दिल्ली बंद’ काे खासा समर्थन मिला। राजधानी के 90% बड़े बाजार बंद रहे। इस कारण 1800 करोड़ का कारोबार प्रभावित होने की बात कही जा रही है। हमेशा चहल-पहल रहने वाले कनॉट प्लेस में भी ज्यादातर दुकानें बंद थीं। हालांकि, खान मार्केट और सरोजिनी नगर मार्केट जैस बाजार गुलजार दिखे।

 

कहीं धरना, कहीं शवयात्रा
व्यापारियों ने करोलबाग में धरना दिया तो कई जगह सीलिंग की शवयात्रा निकाली। सबसे बड़ी शवयात्रा कश्मीरी गेट में निकाली गई, जिसका निगम बोध घाट पर अंतिम संस्कार किया गया। व्यापािरयों ने कहा- सीलिंग को हम मोक्ष के द्वार तक छोड़कर आएंगे।

 

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर दोनों पार्टियों पर लगाया सीलिंग पर राजनीति करने का आरोप

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में चल रही सीलिंग को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच चल रहे आरोप-प्रत्यारोप को नाटक करार दिया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भाजपा और आप की मिलीभगत और उनके बीच की फर्जी लड़ाई में व्यापारियों का बहुत नुकसान हो रहा है। ऐसे में दोनों पार्टियों को आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति करने के बजाय इस समस्या का जल्द-से-जल्द समाधान निकालना चाहिए। 


राहुल गांधी के ट्वीट पर पलटवार करते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने राहुल गांधी को टैग करते हुए लिखा- मैं आपसे आग्रह करता हूं कि संसद के चालू सत्र में आप सीलिंग के मुद्दे को मजबूती से उठाएं। भाजपा को सीलिंग की कार्रवाई रोकने और सील की गईं दुकानों को खुलवाने के लिए जरूरी कदम उठाने पर मजबूर करें। आम आदमी पार्टी आपके ऐसे किसी भी प्रयास का समर्थन करेगी। 


इससे पहले केजरीवाल ने 9 मार्च को सीलिंग के मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख मुलाकात का समय मांगा था। उन्होंने राहुल गांधी से इस पर चर्चा करने के लिए समय मांगा था, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष ने अभी तक मुलाकात का समय नहीं दिया है।

Government to affirm affidavit in Supreme Court on delhi sealing
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now