--Advertisement--

पति ने पत्नी को पहले च्युंगम में मिलाकर दिया जहर, नहीं मरी तो ससुर ने घोंट दिया गला

पति ने पिता के साथ मिलकर उसका गला घोंट दिया।

Danik Bhaskar | Mar 08, 2018, 06:22 AM IST
अस्पताल में चार दिन से भर्ती है पीड़िता, हालत अभी भी ठीक नहीं अस्पताल में चार दिन से भर्ती है पीड़िता, हालत अभी भी ठीक नहीं

नई दिल्ली. मयूर विहार के चिल्ला गांव में चौंकाने वाली घटना सामने आई है। यहां एक युवक बेटी पैदा होने पर पत्नी से नाराज रहता था। तीन मार्च को उसने पत्नी को पहले च्युंगम में जहर मिलाकर मारने की कोशिश की। बाद में पिता के साथ मिलकर उसका गला घोंट दिया। हालांकि पत्नी बच गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत स्थिर बनी हुई है। मयूर विहार थाना पुलिस ने स्थानीय एसडीएम के सामने महिला का बयान लेने के बाद हत्या के प्रयास की धाराओं में केस दर्ज कर पति को अरेस्ट कर लिया। महिला का ससुर फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।

अक्सर देर रात आता था, पूछने पर करता पिटाई

पुलिस अधिकारी के अनुसार 25 वर्षीय नम्रता डेढ़ा पुत्री पिता महेश कुमार वशोया का मायका ईस्ट ऑफ कैलाश में है। नम्रता की शादी 22 फरवरी 2016 को चिल्ला गांव निवासी अर्जुन डेढ़ा पुत्र देवीराम डेढ़ा के साथ हुई। पुलिस को दिए बयान में नम्रता ने बताया कि अर्जुन का एक अन्य महिला के साथ अवैध संबंध है। शादी के बाद जब उसे यह जानकारी हुई तो उसने अपने ससुर और सास को यह बात बताई। लेकिन दोनों ने उसकी बात अनसुनी कर बेटे को कुछ नहीं कहा और एक समय के बाद सुधरने की बात कही। इसके बाद से अर्जुन ने नम्रता के साथ झगड़ा और मारपीट करना शुरू कर दिया। अक्सर वह देर रात को घर आता था और पूछे जाने पर नम्रता की पिटाई करता था।

महिला को दो दिन बाद आया होश

बेटी का मुंडन कराकर आने के कुछ देर बाद अर्जुन ने नम्रता को च्युंगम में जहर मिलाकर उसे खाने को दी फिर बेटी को लेकर खुद राजस्थान जाने और अवैध संबंधों के खिलाफ आवाज उठाने से नाराज होकर झगड़ा शुरू कर दिया। इसकी शिकायत नम्रता ने ससुर देवीराम से की। देवीराम व अर्जुन ने नम्रता के दुपट्टे से उसका गला घोंट दिया। दम घुटने से नम्रता बेसुध गई। दोनों ने उसे मरा हुआ समझ कर महेश को फोन कर दिया कि आपकी बेटी फांसी लगा ली है। महेश नम्रता के ससुराल पहुंचे। यहां पता चला कि नम्रता को अस्पताल ले जाया गया है। डॉक्टरों ने सीपीआर के जरिए जान तो बचा ली, लेकिन स्थिति गंभीर है और उसे अपाेलो अस्पताल रैफर कर दिया गया।

आरोपी पति। आरोपी पति।