Home | Union Territory | New Delhi | News | Monsoon rains may be less than normal this year

इस साल सामान्य से कम रह सकती है मानसूनी बारिश, मौसम विभाग का अनुमान

कम बारिश से भारत में सोयाबीन, मूंगफली और कपास की फसलें प्रभावित हो सकती हैं। पिछले साल भी मानसून की बारिश औसत से कम रही

Bhaskar News| Last Modified - Mar 14, 2018, 05:04 AM IST

1 of
Monsoon rains may be less than normal this year
दूसरी निजी कंपनियों ने भी अल-नीनो की आशंका व्यक्त की है, लेकिन सरकारी विभागों ने इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा है। - फाइल

सिंगापुर.  इस बार मानसून की बारिश सामान्य से कुछ कम रह सकती है। वजह है अल-नीनो। जून के बाद इसका असर देखने को मिल सकता है। भौगोलिक आंकड़ों पर काम करने वाली निजी अमेरिकी संस्था रेडिएंट सॉल्यूशंस ने यह अनुमान जताया है।

 

 

- रेडिएंट के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी काइल तापले ने कहा कि कम बारिश से भारत में सोयाबीन, मूंगफली और कपास की फसलें प्रभावित हो सकती हैं। पिछले साल भी मानसून की बारिश औसत से कम रही थी। लंबी अवधि के औसत की तुलना में 95% बारिश हुई थी, जबकि मौसम विभाग का अनुमान 98% का था। 

- काइल ने कहा कि ला-नीना कमजोर हो रहा है और अल-नीनो की आशंका बढ़ रही है।

- मौसम का अनुमान लगाने वाली दूसरी निजी कंपनियों ने भी अल-नीनो की आशंका व्यक्त की है, लेकिन सरकारी विभागों ने इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा है। अल-नीनो से एशिया के कुछ इलाकों में सूखे की स्थिति बन जाती है, जबकि दक्षिणी अमेरिका में सामान्य से अधिक बारिश होती है।
- काइल ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्वी इलाकों में भी मौसम शुष्क रह सकता है। इसका असर वहां गेहूं की फसलों पर होगा। सूखा झेल रहे अर्जेंटीना में दो हफ्ते में बारिश हो सकती है, लेकिन सोयाबीन की फसल के लिए यह काफी लेट हो चुकी है। गर्म मौसम के कारण पिछले साल ऑस्ट्रेलिया में गेहूं की पैदावार 30% कम रही थी।
  

 

 

Monsoon rains may be less than normal this year
अल-नीनो से एशिया के कुछ इलाकों में सूखे की स्थिति बन जाती है, जबकि दक्षिणी अमेरिका में सामान्य से अधिक बारिश होती है। - फाइल
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now