Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Multani Clay Using To Taj Mahal Renovation

369 साल में पहली बार... मुल्तानी मिट्टी से लौट रही ताज की चमक

दुनिया के सात अजूबे में शामिल आगरा के ताजमहल की खूबसूरती में और निखार रहा है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 08, 2017, 06:29 AM IST

  • 369 साल में पहली बार... मुल्तानी मिट्टी से लौट रही ताज की चमक
    +1और स्लाइड देखें
    पॉल्यूशन के चलते ताज महल धीरे-धीरे अपनी सफेदी खोने लगा था।

    आगरा. दुनिया के सात अजूबों में शामिल आगरा के ताजमहल की खूबसूरती में और निखार रहा है। 1648 में बनी 240 फीट ऊंची और 17 एकड़ में फैली इस मुगलकालीन इमारत को पहली बार ‘मड-पैक थेरेपी’ (मुल्तानी मिट्‌टी) के जरिए पॉलिश किया जा रहा है। 2015 में शुरू हुआ यह काम करीब 75% पूरा हो चुका है। इसके नवंबर 2018 तक पूरा होने की उम्मीद है।

    मीनार-गुंबद पर पड़ी पीली परत

    -आईआईटी कानपुर और अमेरिकी यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स के मुताबिक, संगमरमर पर डीजल और जले हुए कचरे के धुएं से जमा इन परतों के कारण ताज महल धीरे-धीरे अपनी सफेदी खोने लगा था।
    - वहीं, इंडस्ट्रियल जोन में होने के कारण यहां हमेशा पॉल्यूशन रहता है। इससे ताज की मीनारों और गुंबद पर पीले धुएं की परतें जम गई थीं।

    चिकनाई और कार्बन को सोख लेती है मुल्तानी मिट्टी
    मड-पैक थेरेपी: इमारत पर मुल्तानी मिट्टी की पतली परत बिछाई जाती है। बाद में इस परत पर प्लास्टिक शीट्स चढ़ा दी जाती है।

    - ये परत संगमरमर पर जमी ग्रीस और कार्बन को सोख लेती है। जब मिट्टी पूरी तरह सूख जाती है तो इसे डिस्टिल्ड वॉटर से साफ किया जाता है। पुरानी इमारतों को साफ करने का यह अब तक का सबसे सुरक्षित तरीका है।

  • 369 साल में पहली बार... मुल्तानी मिट्टी से लौट रही ताज की चमक
    +1और स्लाइड देखें
    इंडस्ट्रियल जोन में होने के कारण ताज महल के आसपास हमेशा पॉल्यूशन रहता है। इससे ताज की मीनारों और गुंबद पर पीले धुएं की परतें जम गई थीं।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Multani Clay Using To Taj Mahal Renovation
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×