Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» New Delhi Weather Update News

18 दिन बाद दिल्ली में लौटा घना कोहरा, पांच दिनों तक ठंडी हवाएं देंगी दस्तक

गुरुवार सुबह 5.30 बजे पालम में दर्ज हुई 50 मीटर विजिबिलिटी

Bhaskar News | Last Modified - Jan 26, 2018, 07:38 AM IST

18 दिन बाद दिल्ली में लौटा घना कोहरा, पांच दिनों तक ठंडी हवाएं देंगी दस्तक

नई दिल्ली. दिल्ली में गुरुवार को 18 दिन बाद घना कोहरा फिर लौट आया। इससे पहले 7 जनवरी को घना कोहरा छाया था। गुरुवार को कोहरे के साथ दिनभर हल्के बादल छाए रहे। इससे मौसम ठंडा रहा। साथ ही 12 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा भी चली। पालम इलाके में विजिबिलिटी सुबह 5.30 बजे 50 मीटर और सुबह 8.30 बजे 100 मीटर दर्ज हुई।


मौसम विभाग के मुताबिक 26 जनवरी के बाद से 31 दिसंबर तक कोहरा छाए रहने की संभावना है। ठंडी नमी वाली हवाएं दिल्ली में अगले पांच दिनों तक चलती रहेंगी। साथ ही हल्के बादल भी छाए रह सकते हैं। इससे दिल्ली और आसपास के इलाकों में ठंडक बनी रहेगी। वहीं, घने कोहरे के कारण 4 फ्लाइटों को डाइवर्ट करना पड़ा और 17 फ्लाइटें देर रहीं।

सामान्य से दो डिग्री ज्यादा रहा दिल्ली में तापमान
मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को अधिकतम तापमान 18.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। यह सामान्य से दो डिग्री सेल्सियस ज्यादा है। मौसम विभाग के डिप्टी डायरेक्टर जनरल डॉ. देवेंद्र प्रधान ने बताया कि 26 जनवरी के बाद न्यूनतम तापमान 7 से 9 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

उत्तर भारत से आ रही हैं हवाएं, लाएंगी ठंडक
उत्तर भारत से बीते आठ दिनों से लगातार ठंडी हवाएं दिल्ली की तरफ आ रही हैं और ठंड बढ़ा रही हैं। 28 जनवरी को एक बार फिर एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत में पहुंचेगा। इससे मौसम में बदलाव आने की उम्मीद है। इसका असर उत्तर भारत के पहाड़ी इलाकों में रहेगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 18 din baad delhi mein lautaa ghnaa koharaa, Panch dinon tak thndi hvaaen dengai Dastak
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×