Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Nightlife Seal Of Delhi Due To Disco And Pubs Closing

दिल्ली की नाइट लाइफ 'सील', सीलिंग ने मौज-मस्ती में डाला खलल

सीलिंग की वजह से अब हमें भी सीपी की भीड़ भरी जगहों में जाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 22, 2018, 04:59 AM IST

  • दिल्ली की नाइट लाइफ 'सील', सीलिंग ने मौज-मस्ती में डाला खलल
    +1और स्लाइड देखें

    नई दिल्ली. अपनी नाइट लाइफ के लिए जानी जाती है, लेकिन इसमें सीलिंग ने खलल डाल दिया है। हौजखास, साउथ एक्स, जीके और डिफेंस कॉलोनी के बार और पबों पर ताला लग चुका है। इससे न सिर्फ क्लब ओनर्स में गुस्सा है बल्कि डेल्हिआइट्स भी नाराज हैं। हौज खास में एक क्लब मालिक ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि नाइट लाइफ एक्टिविटी में 70-80 फीसदी की कमी पिछले कुछ दिनों में देखने को मिली है।

    आखिर जाएं कहां, पार्टी एनिमल हैं हैरान-परेशान

    - इस पर जब हमने सोशलाइट और बिजनेसमैन विपुल जैन से बात की तो उन्होंने बताया, मैं ज्यादातर अपने दोस्तों के साथ डिफेंस कॉलोनी के नाइट क्लब्स या लाउंज में जाना पसंद करता था। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि मेरे घर से यह डेस्टिनेशन काफी नजदीक हैं।

    - वह कहते हैं, सीलिंग के बाद से यहां ऐसी कोई जगह नहीं बची है जहां जाकर हम अपने दोस्तों के साथ वक्त बिता सकें। अब जितनी भी जगहें बची हैं, वहां काफी भीड़ और शोरशराबा रहता है। कुछ ऐसा ही मानना है अपर्णा जौहरी का।

    - उनका कहना है, ग्रेटर कैलाश, डिफेंस कॉलोनी और खान मार्केट में चुनिंदा और सॉफेस्टिकेटेड लोग आना पसंद करते हैं क्योंकि ज्यादातर लोग सीपी का रुख करते थे। सीलिंग की वजह से अब हमें भी सीपी की भीड़ भरी जगहों में जाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। अब हमें यहां की नाईट लाइफ एकदम खत्म होती दिख रही है।

  • दिल्ली की नाइट लाइफ 'सील', सीलिंग ने मौज-मस्ती में डाला खलल
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Nightlife Seal Of Delhi Due To Disco And Pubs Closing
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×