--Advertisement--

मौलाना ने मदरसे में बच्ची से किया रेप, चिल्ला न सके इसलिए मुंह में ठूंसा कपड़ा

हैवानियत: नरेला की घटना, बच्ची को दिया पांच रु. का सिक्का, कहा- चुप रहना

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 06:37 AM IST
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

नई दिल्ली. दिल्ली में मासूम बच्चियों के साथ हैवानियत थमने का नाम नहीं ले रही। ताजा मामला नरेला का है, जहां 67 वर्षीय मौलाना ने मदरसे में नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। वारदात रविवार शाम करीब 7 बजे की है। मदरसे से लौटने के बाद बच्ची करीब 48 घंटे तक दर्द से तड़पती रही। उसे लगातार ब्लीडिंग हो रही थी। मगर मौलाना ने धमकी दी थी, इसलिए उसने घरवालों को कुछ नहीं बताया। मंगलवार को ब्लीडिंग ज्यादा होने और पेट दर्द की समस्या बढ़ने पर उसने परिजनों को बताया। इसके बाद बच्ची की मौसी उसे अस्पताल लेकर पहुंची। जहां डॉक्टरों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म होने की बात बताई। परिजनों ने बच्ची से पूछा तो उसने आप बीती बताई। इसके बाद मौसी ने ही दिल्ली महिला आयोग और नरेला थाना पुलिस को मामले की सूचना दी। अस्पताल पहुंची पुलिस ने बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट और बयान के बाद आरोपी मौलाना जकीर अालम पर दुष्कर्म, पॉक्सो की धारा में केस दर्ज कर उसे मदरसे से ही गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को फिलहाल जेल भेज दिया गया है।

बच्ची की आप बीती उसी की जुबानी...
नौ साल की बच्ची ने परिजनों को बताया, “शाम को मदरसे की छुट्टी हो गई। बाकी बच्चे चले गए। दादा (आरोपी मौलाना जकीर आलम) ने मुझसे रुकने के लिए कहा। थोड़ी देर बाद उन्होंने मदरसे का गेट लकड़ी के बांस से बंद कर दिया। फिर मुझे पांच रुपए का सिक्का देकर कहा कि किसी को कुछ मत बताना, चुप रहना। फिर उन्होंने मेरे साथ गंदा काम किया। मैंने चिल्लाने की कोशिश की तो मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। इसके बाद मुझे खूब पीटा। फिर कहा कि अगर इसके बारे में किसी को भी कुछ बताया तो जान से मार दूंगा। दो दिन से मेरे पेट में बहुत दर्द हो रहा है और खून भी आ रहा है लेकिन डर के मारे मैं किसी को नहीं बता पाई।’

पिता दिहाड़ी मजदूर और मां मानसिक रूप से बीमार
पुलिस अधिकारी के अनुसार बच्ची मयूरी (परिवर्तित नाम) अपने परिवार के साथ जेजे कॉलोनी में रहती है। बच्ची के परिवार में माता-पिता के अलावा दो बहनें और एक भाई है। पिता नगर निगम में दिहाड़ी मजदूर हैं और मां मानसिक रूप से बीमार है। बच्ची के घर के पास ही एक मदरसा है। यहां बड़ी संख्या में बच्चे पढ़ने आते हैं। बच्ची भी वहीं पढ़ने जाती थी। इस मदरसे में मौलाना जकीर अालम बच्चों को पढ़ाते थे।

डॉक्टर बोले- ब्लीडिंग न रुकने से संक्रमण का खतरा

वारदात के बाद से बच्ची को लगातार ब्लीडिंग हो रही है। वह करीब 48 घंटे तक दर्द से तड़पती रही है। डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची के शरीर में संक्रमण फैल गया है। इसके चलते उसकी तबीयत सही होने में अभी समय लगेगा, हम प्रयास कर रहे हैं कि उसकी तबीयत में सुधार हो लेकिन हमारी पहली कोशिश उसकी ब्लीडिंग रोकना है। ताकि बच्ची के शरीर में खून की कमी न हो।

पुलिस बोली- आरोपी ने पूछताछ में जुर्म कबूल कर लिया
परिजनों से सूचना मिलने के बाद नरेला थाना पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की और बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट और बयान के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसे फिलहाल जेल भेज दिया गया है।

- रजनीश गुप्ता, पुलिस उपायुक्त, रोहिणी जिला

सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।
X
सांकेतिक तस्वीर।सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर।सांकेतिक तस्वीर।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..