--Advertisement--

​नॉर्थ एमसीडी मेयर की विजिलेंस जांच होगी, एलजी ने दिए आदेश

नॉर्थ एमसीडी की मेयर प्रीति अग्रवाल पर टेंडर में 10 फीसदी कमीशन लेने का आरोप है।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 08:01 AM IST

नई दिल्ली. नॉर्थ एमसीडी की मेयर प्रीति अग्रवाल पर टेंडर में 10 फीसदी कमीशन लेने का आरोप है। इस मामले में एलजी ने विजिलेंस जांच के आदेश दे दिए हैं। एलजी की ओर से यह कार्रवाई दिल्ली के एक वकील कैलाश चंद मुदगिल की शिकायत पर की गई है। मुदगिल ने 29 दिसंबर, 2017 को शिकायत दी थी। मेयर प्रीति अग्रवाल ने कहा कि ये सभी आरोप निराधार हैं। बीजेपी ने किया बचाव...


- उत्तरी निगम की मेयर प्रीति अग्रवाल पर ठेका आंवटन में आम आदमी पार्टी की ओर से लगाए आरोपों का गुरुवार को भाजपा ने बचाव किया है। प्रदेश भाजपा के महामंत्री रविंद्र गुप्ता ने महापौर पर लगाए गए आरोपों को तथ्यहीन बताया।

- उन्होंने कहा कि आप के ये आरोप स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों से दिल्ली की जनता का ध्यान भटकाने की साजिश है। इससे पहले प्रदेश भाजपा के कार्यकर्ताओं ने सत्येंद्र जैन के घर पर सरस्वती विहार में प्रदर्शन किया।

- दरअसल मेयर की ओर से ठेका आवंटन में अनियमितता को लेकर आप ने उपराज्यपाल से सिफारिश की थी इसकी जांच सतर्कता आयोग से कराई जाए।

सत्येंद्र जैन की बर्खास्तगी को लेकर आप दबाव में- बीजेपी

- आप के आरोप पर रविंद्र गुप्ता ने कहा कि हमारी जानकारी के अनुसार उपराज्यपाल ने मेयर के विरुद्ध कोई व्यक्तिगत जांच के आदेश नहीं दिए हैं। रविंद्र गुप्ता ने कहा कि आम आदमी पार्टी केवल भ्रम फैलाकर राजनीतिक लाभ उठाने की राजनीति करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के सत्येंद्र जैन की बर्खास्तगी की मांग को लेकर रोज हो रहे प्रदर्शनों से आप परेशान होकर दबाव में आ गई है। इसलिए वह मेयर पर तथ्यहीन आरोप लगा रही है।

- नॉर्थ एमसीडी की मेयर प्रीति अग्रवाल पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों पर आम आदमी पार्टी ने कहा है कि हमने जो आरोप पहले लगाए थे उन पर मुहर लग गई है। अब मेयर प्रीति अग्रवाल को तुरंत पद से हटाया जाए और बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी दिल्ली की जनता से माफी मांगें।

- आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के एक वकील की शिकायत पर उपराज्यपाल ने इस मामले में विजिलेंस जांच के आदेश दिए हैं। दिलीप पांडे ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने कुछ दिन पहले बताया था कि प्रीति अग्रवाल ने निगम के एक टेंडर प्रोसेस को प्रभावित करने की कोशिश की है।

- इस मामले ने दिल्ली नगर निगम में भाजपा की असलियत को समाने रखा है। भाजपा व मनोज तिवारी ने कहा था कि इस बार निगम में नए चेहरे-नई उड़ान लेकिन वो उड़ान भ्रष्टाचार के नए कीर्तिमान बनाएगी ये तो आप पहले दिन से कह रही थी और अब ये उजागर भी होने लगा है।

सिस्टम को अपने तरीके से मरोड़ने का आरोप
- दिलीप पांडे ने कहा कि मेयर प्रीति अग्रवाल ने सिस्टम को अपने तरीके से मरोड़ने की कोशिश की और नवंबर में टेंडर प्रोसेस में दखल दिया। उन्होंने कहा कि टेंडर प्रक्रिया की मीटिंग में जबरदस्ती घुसकर बैठक को अस्त-व्यस्त किया और नियम-कानूनों को ताक पर रखते हुए टेंडर के कागज अपने पास मंगवाए जो पूरी तरह से गैर-संवैधानिक था।

उधर आप ने कहा-

- पहले ही कहा था टेंडर में घोटाला हुआ, मेयर को पद से हटाए बीजेपी, तिवारी माफी मांगें