--Advertisement--

प्रेमी के मर्डर के दौरान कैब में था तीसरा शख्स, पुलिस कर रही है तलाश

भाई और मामा द्वारा प्रेमी की हत्या करने के मामले में कोर्ट ने दोनों आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

Danik Bhaskar | Jan 07, 2018, 03:58 AM IST

नई दिल्ली। ईस्ट दिल्ली के अशोक नगर एरिया में युवती के भाई और मामा द्वारा शादीशुदा प्रेमी की हत्या करने के केस में कोर्ट ने दोनों आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। जबकि हत्याकांड के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस अभी तक यह पता नहीं लगा पाई है कि युवक युवती के साथ कैब में तीसरा शख्स कौन था। पुलिस के अनुसार, तीसरे व्यक्ति ने ही आरोपियों को उनकी गाड़ी की लोकेशन के बारे में बताया था। वहीं, हमले में घायल युवती को 24 घंटे बाद भी होश नहीं आया है। हॉस्पिटल में उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

दोनों पर हमले के बाद भागा तीसरा शख्स

- मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी के अनुसार, लड़की के फैमिली वाले उसे उसके प्रेमी दिनेश की तलाश सोमवार रात से कर रहे थे लेकिन उन्हें नहीं पता था कि वे दोनों दिल्ली में ही हैं।

ऐसे में किसी ने उन्हें सूचना दी थी कि दोनों दिल्ली से बाहर दिनेश के गांव नोएडा जा रहे हैं।
- पुलिस के अनुसार, लोकेशन के बारे में जानकारी देने वाला शख्स वारदात के दौरान गाड़ी में ही मौजूद था। जब दिनेश और उसकी गर्लफ्रेंड पर हमला हुआ तो तीसरा शख्स घटनास्थल से भाग गया। पुलिस इस शख्स को तलाश रही है।

नोएडा जाने के लिए तीसरे शख्स ने बुक की थी कैब
- उधर, हत्याकांड के बाद पुलिस ने टैक्सी ड्राइवर को कस्टडी में लेकर पूछताछ की है।
- पुलिस को पता चला की दिनेश युवती के लिए किसी अन्य शख्स ने कैब बुक की थी। वह शख्स कैब को लेकर न्यू अशोक नगर सब्जी मंडी आया था।
- इसके बाद यहां से दिनेश युवती कैब में सवार हुए थे। इसके बाद कैब ड्राइवर तीनों को लेकर नोएडा दिनेश के गांव जा रहा था।
- इस दौरान युवती के भाई शंकर मामा रिंकू को युवती उसके प्रेमी के लोकेशन के बारे में पता चल गया और वह न्यू अशोक नगर मेट्रो स्टेशन के पास कैब का इंतजार कर रहे थे।
- ऐसे में जब कैब मेट्रो स्टेशन के पास पहुंची तो युवती के भाई शंकर ने कैब को रुकवा लिया और दिनेश युवती पर हमला कर दिया। जिसमें दिनेश की मौके पर ही मौत हो गई जबकि युवती गंभीर रूप से घायल है।
- पुलिस ने कैब ड्राइवर से बुकिंग करने वाले का नंबर जरूर दस्तावेज लेकर उसे छोड़ दिया है।

दिनेश का शव लेने नहीं पहुंचे फैमिलीवाले, कहा - हमारा नहीं है कोई रिश्ता
- 23 साल की युवती शादीशुदा दिनेश की रिश्तेदार थी। 35 साल के दिनेश के दो बच्चे भी हैं। ऐसे में घरवालों ने दिनेश का शव लेने से मना कर दिया है।
- उसके फैमिलीवालों का कहना है कि दिनेश की हरकतों के कारण परिवार की बेइज्जती हुई है। पुलिस के कई बार बुलाने पर भी परिजन शव के पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल नहीं पहुंचे। ऐसे में शनिवार को दिनेश के शव का पोस्टमॉर्टम नहीं हो सका।
- वहीं, पुलिस अधिकारी के अनुसार, शव ने यह कहते हुए शव लेने से मना कर दिया कि उनका दिनेश से कोई रिश्ता नहीं है।