--Advertisement--

स्वामी समेत सभी को मामले में पार्टी बनाने से कोर्ट का इनकार

अयोध्या विवाद: तीन हस्तक्षेप याचिकाएं ठुकराईं

Danik Bhaskar | Mar 15, 2018, 02:47 AM IST

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में सभी अंतरिम हस्तक्षेप याचिकाआें को खारिज कर दिया है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय बेंच ने तीनों हस्तक्षेप याचिकाओं को नामंजूर कर दिया। इनमें भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी की हस्तक्षेप याचिका भी शामिल थी। बेंच के अन्य दो सदस्यों में जस्टिस अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर शामिल हैं।

- कोर्ट ने कहा कि रजिस्ट्रार इस मामले में कोई भी हस्तक्षेप याचिका स्वीकार नहीं करेंगे। कोर्ट ने कहा कि सिर्फ वास्तविक पक्षकारों को ही विवाद के मामले में पार्टी बनने की इजाजत है। मामले में उन्हें ही एडवांस बहस में शामिल किया जाएगा। मामले से कोई संबंध न रखने वाले और पार्टी बनाने की मांग करने वाले सभी लोगों की याचिकाएं खारिज की जाती है।

कोर्ट में 14 याचिकाएं
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 2010 में फैसला सुनाया था। इसमें विवादित जमीन को 3 समान भागों में बांटकर सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लला को देने का आदेश दिया गया था। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में 14 याचिकाएं हैं।