Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Seema Represent To India In Commonwealth Games

इस लड़की ने पैरेन्ट्स के विरोध के बाद शुरू की वेटलिफ्टिंग, अब करेगी इंडिया को रिप्रिजेंट

शुरुआत में पैरेन्ट्स ने किया विरोध, नेशनल में मेडल जीती तो घरवालों की बदली सोच

Bhaskar News | Last Modified - Mar 01, 2018, 06:31 AM IST

  • इस लड़की ने पैरेन्ट्स के विरोध के बाद शुरू की वेटलिफ्टिंग, अब करेगी इंडिया को रिप्रिजेंट
    +1और स्लाइड देखें
    सीमा वशिष्ठ

    नई दिल्ली.दिल्ली की वेटलिफ्टर सीमा वशिष्ठ कॉमनवेल्थ गेम्स में इंडिया को रिप्रेजेंट करने वाली हैं। सीमा नजफगढ़ के ढिंचा गांव की रहने वाली हैं। उन्होंने बताया कि‘पहले मेरा वजन काफी ज्यादा था। इसलिए मैं स्पोर्ट्स एक्टिविटी में हिस्सा नहीं लेती थी, लेकिन मैं चाहती थी कि स्कूल गेम्स में पार्टिसिपेट करूं। एक दिन स्पोर्ट्स टीचर ने मुझे कबड्डी में हिस्सा लेने के लिए कहा। मैं उस मैच में अच्छा नहीं कर पाई और मेरा मन भी कबड्डी में नहीं लगता था। इस बीच स्कूल के पीटीआई ने मुझे वेटलिफ्टिंग में हिस्सा लेने के लिए मोटिवेट किया। मैंने उसमें पार्टिसिपेट किया और अपने टीचर के उम्मीदों पर खरी उतरी। यहां से मेरे वेटलिफ्टिंग करियर की शुरुआत हुई थी।

    शुरुआत में पैरंट्स ने किया विरोध, नेशनल में मेडल जीती तो घरवालों की बदली सोच

    - सीमा बताती हैं कि जब उन्होंने वेटलिफ्टिंग की प्रैक्टिस शुरू की थी तो घर में पैरेन्ट्स ने बहुत विरोध किया था।

    - पैरेन्ट्स का कहना था कि वेटलिफ्टिंग लड़कों का खेल है। किसी लिहाज से लड़कियों के लिए ठीक नहीं है, लेकिन सीमा ने किसी की बात नहीं मानी और प्रैक्टिस जारी रखा।

    - इस बीच उनका चयन स्कूल नेशनल के लिए हो गया, जिसमें उन्होंने मेडल जीतकर घरवालों की सोच बदल दी।

    - अब उन्हें घर वाले फुल सपोर्ट करते हैं। कॉमनवेल्थ गेम्स में मौका मिलने से सभी खुश हैं।

    75 किग्रा. में लेंगी हिस्सा
    - सीमा वशिष्ठ कॉमनवेल्थ गेम्स में पहली बार इंडिया को रिप्रेजेंट करेंगी। उनका चयन 75 किलोग्राम भार कैटिगरी में हुआ है।

    - वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप और जूनियर-सीनियर एशियन वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।

    - जूनियर एशियन वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में उन्होंने गोल्ड व सीनियर में सिल्वर मेडल हासिल किया। इसके अलावा भी उन्होंने कई चैंपियनशिप मेडल हासिल किए हैं।

    रोजाना 6 घंटे कर रही हैं प्रैक्टिस
    - सीमा ने बताया कि वह पाटियाला में इंडिया कैंप में 6 घंटे प्रैक्टिस कर रही हैं। वह अपने डाइट पर भी पूरा ध्यान दे रही हैं।

    - डाइट में नॉनवेज डेली खाती हैं। साथ ही कोच के सुझाव पर सप्लीमेंट भी ले रही हैं। उन्होंने बताया कि ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले एक महीने का कैंप मेलबर्न में भी चलेगा।

    - ऐसे में उन्हें वहां के माहौल में ढलने का मौका मिलेगा। उन्हें उम्मीद है कि वह कॉमनवेल्थ गेम्स में देश के लिए मेडल लाएंगे।

    - इसके लिए वह कड़ी मेहनत कर रही है। उन्होंने कहा कि मेलबर्न में कैंप के दौरान काफी कुछ करना है।

  • इस लड़की ने पैरेन्ट्स के विरोध के बाद शुरू की वेटलिफ्टिंग, अब करेगी इंडिया को रिप्रिजेंट
    +1और स्लाइड देखें
    सीमा वशिष्ठ ऑस्ट्रेलिया (गोल्ड कोस्ट) में होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स में इंडिया को करेंगी रिप्रेजेंट
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Seema Represent To India In Commonwealth Games
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×