--Advertisement--

तीन महीने में 9 लाख सीनियर सिटीजन ने छोड़ी रेलवे टिकट पर सब्सिडी

पिछले साल इसी अवधि में सिर्फ 4.68 लाख वरिष्ठ नागरिकों ने ही सब्सिडी छोड़ी थी जिनमें 2.35 लाख पुरुष जबकि 2.33 लाख महिलाएं

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2017, 06:58 AM IST
Seniors leave subsidy on railway ticket

नई दिल्ली। 9 लाख से ज्यादा की तादाद में वरिष्ठ नागरिकों ने रेलवे की 'गिव अप' स्कीम के तहत स्वेच्छा से सब्सिडी छोड़ दी जिससे रेलवे को 40 करोड़ रुपए की बचत हुई। पिछले साल शुरू की गई इस स्कीम के तहत सीनियर सिटिंजन्स को रेल टिकट पर पूरी छूट लेने या टिकट का पूरा पैसा देने का विकल्प मुहैया कराया जा रहा है। इसी क्रम में इस साल सब्सिडी की आधी रकम स्वेच्छा से छोड़ने का एक और विकल्प जोड़ दिया गया है।

रेल्वे डिपार्टमेंट को फायदा

- रेलवे सीनियर सिटिजन कैटिगरी के टिकटों पर सब्सिडी के रूप में करीब 1,300 करोड़ रुपए का वहन करता है। इस स्कीम का लक्ष्य इस रकम में कटौती करना है।

- 22 जुलाई से 22 अक्टूबर 2017 के बीच 2.16 लाख बुजुर्ग पुरुषों और 2.67 बुजुर्ग महिलाओं ने अपनी पूरी सब्सीडी छोड़ दी जबकि 2.51 लाख बुजुर्ग पुरुषों और 2.05 लाख बुजुर्ग महिलाओं ने आधी सब्सिडी छोड़ी। इस तरह इन तीन महीनों में सब्सिडी छोड़नेवाले 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के यात्रियों की कुल संख्या 9.39 लाख रही।

X
Seniors leave subsidy on railway ticket
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..