Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Seven Year Old Child Murder After Kidnapped In Delhi Swaroop Nagar

38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर

बच्चे का मर्डर कर शव 38 दिन सूटकेस में छिपाए रखा, सीसीटीवी में आखिरी बार बच्चा आरोपी के घर के पास दिखा फिर भी तलाशी नहीं

Bhaskar News | Last Modified - Feb 14, 2018, 06:16 AM IST

  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें

    नई दिल्ली. स्वरूपनगर में सात साल के बच्चे को किडनैप करने के बाद हत्या के मामले में पुलिस की भी बड़ी लापरवाही सामने आई है। बच्चे के घर से 4 मकान छोड़कर पांचवें मकान में ही 38 दिन तक आरोपी ने शव छिपाए रखा और पुलिस आंखें मूंदे रही। जबकि गली में लगे सीसीटीवी कैमरे में भी साफ दिख रहा था कि बच्चा आखिरी बार आरोपी के घर के पास ही दिखाई दिया था। गली में आरोपी के मकान से आगे लगे दूसरे सीसीटीवी कैमरों में बच्चा कहीं नजर नहीं आ रहा है। इसके बावजूद पुलिस ने आरोपी का घर छोड़कर आसपास के 50 से ज्यादा घरों की तलाशी ली। यहां तक कि पुलिस ने घरों में रखी अलमारी और बक्से से लेकर पानी की टंकियों तक की तलाशी ली।

    बहन ने बताया था कि आरोपी ने साइकिल देने की बात कही थी
    आशीष के दादा लाल सिंह ने पोते के गायब होने के कुछ दिन बाद ही पुलिस को अवधेश पर शक होने की बात बताई थी। उस वक्त शक इसलिए हुआ था कि घटना के दिन आशीष ने अपनी बड़ी बहन गुंजन को यह बताया था कि उसे अवधेश चाचा ने शाम को साइकिल दिलाने के लिए बुलाया है। उसने बहन को यह बात मां से नहीं बताने को कहा था। बता दें कि वारदात के बाद 18 दिन तक आरोपी केस दर्ज कराने से लेकर हर जगह परिजनों के साथ रहा।

    मां ने बताया, अवधेश बरगलाता था कि किसी महिला ने पैसों के लिए अाशीष को उठाया है

    अवधेश हमारा दूर का रिश्तेदार है। उसका घर पर आना-जाना था। यहां तक कि जब आशीष पैदा हुआ था, तब भी डिस्चार्ज के समय अवधेश हमारे साथ ही घर आया था। कई बार मैं ही उसके लिए खाना बनाती थी और कपड़े भी धाे देती थी। हमें अंदाजा भी नहीं था कि वो ऐसा कर देगा। वो हमारे परिवार के सदस्य की तरह था। आशीष के गायब होने के बाद से वो रोज घर आने लगा। रोज नए-नए ढोंग रचता था। कहता था कि मैं एक तांत्रिक के पास गया था। उसने बताया कि आपके पड़ोस के घर में शादी होने वाली है। उस घर में एक महिला है। उसके चेहरे पर तिल है। वह गरीब है और पैसों के लिए उसने बच्चे को उठाया है। फिर एक दिन वो बोतल में एक तरल पदार्थ, नमकीन का पैकेट और अन्य सामान लाया और बोला कि इसे घर में छिड़क दो, बच्चा जहां भी होगा, आ जाएगा। मेरा बेटा पढ़ाई में बहुत तेज था। वो डॉक्टर बनना चाहता था। 19 दिसंबर को उसका जन्मदिन था। जन्मदिन से दो दिन पहले उसने अपने पापा से साइकिल लाने को कहा था। पापा ने कहा कि आपको डॉक्टर बनना है तो साइकिल नहीं लाऊंगा। अगर डॉक्टर नहीं बनना है तो साइकिल ले आऊंगा। इस पर आशीष ने कहा कि मुझे साइकिल नहीं चाहिए, मुझे डॉक्टर बनना है। लेकिन यह बात मेरी बड़ी बेटी गुंजन ने अवधेश को बता दी। अवधेश ने साइकिल का लालच देकर उसे अपने घर बुलाकर मार डाला।

    जैसा कि बच्चे की मां ने धर्मेंद्र डागर को बताया।

    पुलिस बोली- हमने जांच में कोई लापरवाही नहीं बरती

    - डीसीपी असलम खां का कहना है कि पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की थी लेकिन उसके शामिल होने की कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई। जिस कारण उसके घर की तलाशी नहीं ली गई। जहां तक जांच का सवाल है तो हमने कोई लापरवाही नहीं बरती।

    परिजनों ने कहा- पुलिस ने ठीक से जांच नहीं की
    - परिजनों के मुताबिक उन्होंने पुलिस को बताया था कि उन्हें अवधेश पर शक है। मगर आरोपी से न तो पूछताछ की गई और न ही उसके कमरे की तलाशी ली गई। पुलिस से निराश होने के बाद उन्होंने तीस हजारी कोर्ट में भी शिकायत की।

    - इसके बाद जब आरोपी काे कोर्ट का नोटिस मिला तो उसने बच्चे के घर आना-जाना बंद कर दिया, लेकिन पुलिस ने तब भी उससे कोई पूछताछ नहीं की।

    आईएएस की तैयारी कर रहा था आरोपी अवधेश
    - बच्चे के शव की बदबू बाहर न जाए, इसलिए आरोपी अवधेश कई तरह के परफ्यूम इस्तेमाल करता था।

    - वह आईएएस की तैयारी कर रहा था। तीन बार एग्जाम भी दे चुका था। दो बार प्री एग्जाम में पास भी हुआ था।

    - आसपास के लोगों को वो बताता था कि मैं सीबीआई में हूं और तुम्हारे बच्चों की नौकरी लगवा दूंगा। बच्चे के घर भी उसका आना-जाना था। वो कहता था कि मैंने 21 लाख की कार बुक कराई है।

  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
  • 38 दिन सूटकेस में छिपा रखी थी डेडबॉडी, IAS की तैयारी कर रहा था किडनैपर
    +8और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Seven Year Old Child Murder After Kidnapped In Delhi Swaroop Nagar
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×