--Advertisement--

एसआईटी करेगी पूर्व सीबीआई चीफ सिन्हा के घर जाने वालों के खातों की पड़ताल

सिन्हा पर आरोप है कि उन्होंने कोयला ब्लॉक आवंटन के मामलों की जांच को प्रभावित करने की कोशिश की।

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 06:06 AM IST
सिन्हा पर आरोप है कि उन्होंने सिन्हा पर आरोप है कि उन्होंने

नई दिल्ली. कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में जांच कर रही एसआईटी ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में बताया कि पूर्व सीबीआई प्रमुख रंजीत सिन्हा के घर जाने वालों के खातों की जांच की जाएगी। सिन्हा पर आरोप है कि उन्होंने कोयला ब्लॉक आवंटन के मामलों की जांच को प्रभावित करने की कोशिश की। सीबीआई की एसआईटी इसकी जांच कर रही है।

एसआईटी ने तीन जजों की बेंच के सामने पेश की स्टेट रिपोर्ट

- एसआईटी ने जस्टिस मदन बी लोकुर, के जोसेफ और एके सिकरी की बेंच में जांच की स्टेटस रिपोर्ट पेश करते हुए बताया कि विजिटर्स की संख्या डायरी में दर्ज लोगों से कहीं ज्यादा थी।

- गाड़ियों के नंबर का पता लगाने की कोशिश की जा रही है जिससे उन लोगों तक पहुंचा जा सके। - एसआईटी का पक्ष रख रहे विशेष सरकारी वकील आरएस चीमा ने कहा कि जांच बढ़ रही है और इसका दायरा भी बढ़ाया गया है।

- जांच पूरी करने के लिए छह महीने का समय मांगा गया है। बेंच ने कोयला ब्लॉक आवंटन के मामलों में ईडी और सीबीआई की धीमी जांच को लेकर नाखुशी जाहिर की।

- बेंच ने कहा कि ईडी ने 11 रिपोर्ट और सीबीआई ने 18 रिपोर्ट दी हैं। सीबीआई ने 1 केस पेंडिंग बताया है। अगली सुनवाई मार्च के दूसरे हफ्ते में रखी है।


13 मामलों में 600 करोड़ की प्रॉपर्टी जब्त करने की कार्रवाई

- प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बताया, ‘13 मामलों में 600 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी जब्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

- निदेशालय ने कुछ और मामले दर्ज किए हैं, जिनमें ऐसा लगता है कि पहली नजर में कोई मामला नहीं बनता था।’