--Advertisement--

तिब्बत क्षेत्र में चीन सीमा पर भारत ने सेना और गश्त बढ़ाई

पिछले साल डोकलाम में दोनों देशों की सेनाओं के 73 दिन के आमने-सामने आ जाने से तनाव बढ़ गया था।

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 04:04 AM IST
चीन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया जा रहा है और नियमित रूप से हेलीकॉप्टरों की तैनाती की गई है। (फाइल) चीन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया जा रहा है और नियमित रूप से हेलीकॉप्टरों की तैनाती की गई है। (फाइल)

किबिथू (अरुणाचल प्रदेश). भारत ने चीन की सीमा से लगे अरुणाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाके दिबांग, दाऊ-डेलाई और लोहित घाटी में सैन्य जवानों की संख्या और गश्त बढ़ा दी है। इसके साथ ही तिब्बत क्षेत्र में चीन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया जा रहा है और नियमित रूप से हेलीकॉप्टरों की तैनाती की गई है। पिछले साल डोकलाम में दोनों देशों की सेनाओं के 73 दिन के आमने-सामने आ जाने से तनाव बढ़ गया था।

पाकिस्तान ने फिर भारतीय चौकियों पर फायरिंग की

जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी रेंजरों ने एक बार फिर युद्ध-विराम का उल्लंघन और उकसावे की कार्रवाई करते हुए भारतीय सेना के चौकियों को निशाना बनाकर फायरिंग की। अधिकारियों के अनुसार शनिवार सुबह पाक रेंजरों ने अंधाधुंध फायरिंग की। भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है।

Tibet region enhances military and patrol on China border
X
चीन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया जा रहा है और नियमित रूप से हेलीकॉप्टरों की तैनाती की गई है। (फाइल)चीन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया जा रहा है और नियमित रूप से हेलीकॉप्टरों की तैनाती की गई है। (फाइल)
Tibet region enhances military and patrol on China border
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..