--Advertisement--

हाईकोर्ट ने दो भाइयों की उम्रकैद की सजा को 7 साल में बदला

नई दिल्ली| दिल्ली हाईकोर्ट ने मोमोज विक्रेता मोनू की हत्या के मामले में दोषी दो भाइयों धर्मेंद्र और जितेंद्र की...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
नई दिल्ली| दिल्ली हाईकोर्ट ने मोमोज विक्रेता मोनू की हत्या के मामले में दोषी दो भाइयों धर्मेंद्र और जितेंद्र की उम्रकैद की सजा को कम कर सात साल कर दिया है। नजफगढ़ निवासी दोनों भाइयों ने मोमोज का पैसा मांगने पर विक्रेता युवक पर गैस सिलेंडर से हमला कर दिया था। निचली अदालत ने दोनों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। दोषियों ने फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। जस्टिस एस. मुरलीधर और जस्टिस आईएस मेहता की खंडपीठ ने धर्मेंद्र और जितेंद्र को हत्या के आरोपों से राहत दी है, लेकिन हत्या की प्रयास की धाराओं में दोषी ठहराया है। खंडपीठ ने कहा यह मामला इरादतन और नियोजित हत्या का नहीं है।