--Advertisement--

देश में हर 10 लाख लोगों पर 3 ब्लड बैंक भी नहीं

सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं को विश्वस्तरीय बनाने की योजनाएं हकीकत कम कागजी ज्यादा नजर आती हैं। देश में ब्लड बैंकों...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 02:05 AM IST
देश में हर 10 लाख लोगों पर 3 ब्लड बैंक भी नहीं
सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं को विश्वस्तरीय बनाने की योजनाएं हकीकत कम कागजी ज्यादा नजर आती हैं। देश में ब्लड बैंकों का बेहद कम नेटवर्क और जरूरत के मुताबिक ब्लड की उपलब्धता न होना इस बात का सबसे बड़ा सबूत है। पिछले चार साल में ब्लड कलेक्शन 12 फीसदी से ज्यादा बढ़ा है लेकिन यह मांग के अनुपात में कम ही है।

14 राज्यों के 74 जिलों में एक भी ब्लड बैंक नहीं

आबादी के दबाव वाले बिहार-दिल्ली-छत्तीसगढ़ सबसे नीचे

पंजाब

106

(लोकसभा में दी गई जानकारी, स्वास्थ्य मंत्रालय, डब्ल्यूएचओ)

यानी प्रति 10 लाख लोगों पर 3 से भी कम ब्लड बैंक

हरियाणा

90

राजस्थान

115

गुजरात

145

मध्यप्रदेश

144

बड़े राज्यों में सबसे ज्यादा उपलब्धता केरल में

(प्रति 10 लाख आबादी पर उपलब्ध ब्लड बैंक)

केरल | 5

तेलंगाना | 5

दिल्ली | 4

पंजाब | 4

कर्नाटक | 3

5 राज्यों में ब्लड कलेक्शन, जरूरत से 50% कम

राज्य जरूरत कलेक्शन कमी

बिहार 11.67 लाख यूनिट 1.822 लाख -20 %

उत्तर प्रदेश 22.38 लाख 8.62 लाख -50 %

झारखंड 3.29 लाख यूनिट 1.64 -50 %

मेघालय और अरुणाचल प्रदेश भी इनमें शामिल

ब्लड डोनेशन का पैमाना | डब्ल्यूएचओ के मुताबिक किसी देश में रक्त की जरूरत को पूरा करने के लिए उस देश की 1 फीसदी आबादी को ब्लड डोनेशन करना जरूरी है।

2903 ब्लड बैंक

सिर्फ चार राज्यों में 200 से ज्यादा ब्लड बैंक

महाराष्ट्र

328

उत्तर प्रदेश

294

बिहार

76

दिल्ली

69

4 साल में ब्लड कलेक्शन 12 फीसदी बढ़ा

1.10 करोड़ यूनिट

2016-17

99.40 लाख यूनिट

2013-14

फिर भी 15% कम

1.30 करोड़ यूनिट की जरूरत

तमिलनाडु

291

कर्नाटक

200

प बंगाल

128

छत्तीसगढ़

67

(1 यूनिट = 450 मिलीलीटर ब्लड)

X
देश में हर 10 लाख लोगों पर 3 ब्लड बैंक भी नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..