--Advertisement--

मेड के लिए जस्ट डायल पर कॉल से पहले ये पढ़ें

आठ सौ से ज्यादा वारदातों को अंजाम देने वाले एक गिरोह की 4 महिलाओं सहित 12 बदमाशों को कीर्ति नगर थाना पुलिस ने...

Danik Bhaskar | Mar 14, 2018, 02:10 AM IST
आठ सौ से ज्यादा वारदातों को अंजाम देने वाले एक गिरोह की 4 महिलाओं सहित 12 बदमाशों को कीर्ति नगर थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस टीम पिछले 5 माह से इस गिरोह का पर्दाफाश करने में लगी थी। इस गिरोह को 12 अन्य राज्यों की पुलिस भी ढूंढ़ रही थी। फिलहाल पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया है। गिरोह ने अंजू प्लेसमेंट एजेंसी के नाम से क्विकर व जस्ट डायल पर प्लेसमेंट एजेंसी रजिस्टर्ड कराई थी। मेड की जरूरत होने पर लोग यहां से नंबर लेकर फोन करते थे। इसके बाद गिरोह में मौजूद चार महिला सदस्य घरों में काम करने जाती थीं। पहले ही दिन घर के सभी समान व कमरों की रेकी करने के बाद वे साथियों को उसकी सूचना देती थीं और मौका मिलते ही गिरोह के सदस्य घर का सामान लूटकर फरार हो जाते थे। यह गिरोह करीब 12 राज्यों फैला है।

800 वारदातें करने वाले गैंग के 12 लोग अरेस्ट, 12 राज्यों को थी तलाश

ऐसे पकड़ में आया गिरोह

पुलिस उपायुक्त विजय कुमार ने बताया कि कीर्ति नगर थाना पुलिस को इस गिरोह के खिलाफ 6 नवम्बर 2017 को शिकायत मिली थी। इसमें रमेश नगर निवासी मनप्रीत सिंह ने बताया था कि अंजू प्लेसमेंट एजेंसी ने अनिता नाम की मेड को घर में रखा था। पर वह दो दिन बाद घर में लूटपाट करके फरार हो गई। एसएचओ कीर्तिनगर अनिल शर्मा की टीम ने मामले की जांच शुरू की। पता चला कि एजेंसी का पता और मनप्रीत को दिए पहचान के दस्तावेज फर्जी हैं। ऐसे में उन्हाेंने मेड के मोबाइल नंबर से जांच जारी रखी।

पीड़ित की प|ी ने पकड़ा

8 मार्च को मनप्रीत चाेपड़ा की प|ी शारदा ने बिहारी चौक में महिला को देखा और पकड़ लिया। शारदा ने उसे पकड़ने के बाद अपने पति और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार का उससे पूछताछ शुरू की। उसने अपने पूरे गिरोह के बारे में बता दिया। इसके बाद पुलिस ने महिला की निशानदेही पर एक के बाद गिरोह के सभी सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। सभी यूपी के रहने वाले हैं।