Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» ट्विटर पर जुबानी जंग

ट्विटर पर जुबानी जंग

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की भारत यात्रा से ब्रिटेन परेशान हो गया है। दोनों ही देश भारतीय छात्रों को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 14, 2018, 02:10 AM IST

ट्विटर पर जुबानी जंग
फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की भारत यात्रा से ब्रिटेन परेशान हो गया है। दोनों ही देश भारतीय छात्रों को लुभाने में जुटे हैं और इस कोशिश में मैक्रों और ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन की ट्विटर पर तकरार हो गई।

भारतीय छात्रों को लुभाने में...

ट्विटर पर भिड़े फ्रांस के राष्ट्रपति और ब्रिटिश विदेश मंत्री

नई दिल्ली में शनिवार को अपने संबोधन के दौरान मैक्रों ने फ्रांस को भारतीय छात्रों के लिए यूरोप के नए प्रवेशद्वार के तौर पर पेश किया था। उनके इस प्रस्ताव को यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के बाहर होने के परिप्रेक्ष्य में देखा गया। ऐसे बढ़ी तकरार...

भारतीय छात्रों की संख्या दोगुनी करना चाहता हूं

‘हम फ्रांस और भारत के बीच नई शुरुआत कर रहे हैं.. मैं फ्रांस आने वाले भारतीय छात्रों की संख्या दोगुनी करना चाहता हूं। अगर आप फ्रांस का चुनाव करेंगे तो इससे फ्रेंकोफोनी के साथ-साथ यूरोप तक भी आपकी पहुंच होगी।’

एजुकेशन इज ग्रेट इन इंग्लिश

मोहम्मद शमी की प|ी ने मीडियाकर्मियों से की बदसलूकी, तोड़ा कैमरा

कोलकाता| क्रिकेटर मोहम्मद शमी और उनकी प|ी हसीन जहां के बीच जारी विवाद का खामियाजा अब मीडिया को भी भुगतना पड़ रहा है। शमी की प|ी हसीन ने मंगलवार को मीडियाकर्मियों से बदसलूकी की। आरोप है कि उन्होंने सवाल पूछने पर न सिर्फ बदतमीजी की, बल्कि एक निजी चैनल का कैमरा भी तोड़ दिया। कोलकाता में सवाल पूछने पर उन्होंने एक चैनल का कैमरा नीचे गिरा दिया, जिससे वह टूट गया। हसीन के वकील ने कहा कि मीडिया जबरदस्ती पीछे पड़ा हुआ है और सोमवार को भी हमें परेशान करने की कोशिश की गई। मीडिया को भी समझना चाहिए कि प्राइवेट स्पेस क्या है? हम अपने स्तर पर सब ठीक करने की कोशिश कर रहे हैंै।’

2017 में ब्रिटेन में 14 हजार से ज्यादा भारतीय छात्रों के आने और दुनिया के 10 सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में हमारे चार विश्वविद्यालयों को चुनने पर हमें गर्व है। पिछले साल की अपेक्षा यह संख्या अधिक है।’ उन्होंने अपने ट्वीट के अंत में कहा, ‘एजुकेशन इज ग्रेट इन इंग्लिश।’

गूगल मैप में आया ‘प्लस कोड’ फीचर, एक कोड से सर्च होंगे लोकेशन

नई दिल्ली| गूगल मैप यूजर्स अब कोई भी लोकेशन सिर्फ एक कोड के जरिए सर्च कर सकेंगे। गूगल ने गूगल मैप में ‘प्लस कोड’ फीचर जोड़ दिया है। गूगल ने भारतीय यूजर्स को ध्यान में रखते हुए वॉयस नैविगेशन की सुविधा 6 भारतीय भाषाओं बंगाली, गुजराती, कन्नड़, तेलुगू, तमिल और मलयालम भाषा में शुरू की है। ‘प्लस कोड’ एक एरिया और लोकल कोड है। गूगल ने हर लोकेशन के लिए अलग-अलग कोड निर्धारित किया है। इस कोड में 6 कैरेक्टर होंगे। प्लस कोड जेनरेट करने के लिए लोकेशन पर जूम करना होगा। इसके बाद लोकेशन का पिन डालना होगा और फिर पिन पर टैप कर कोड देखना होगा। प्लस कोड का फ्री में इस्तेमाल कर सकेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ट्विटर पर जुबानी जंग
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×