--Advertisement--

अफसरों के बैठक में न आने का मुद्दा गरमाएगा

आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने विधानसभा का सत्र दो दिन के लिए बढ़ाया है। इसमें आईएएस और दानिक्स अधिकारियों के...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने विधानसभा का सत्र दो दिन के लिए बढ़ाया है। इसमें आईएएस और दानिक्स अधिकारियों के मंत्रियों या विधायक की बैठक में शामिल न होने और उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ चल रही खींचतान का मुद्दा उठाए जाने की तैयारी है। सोमवार को सौरभ भारद्वाज, नितिन त्यागी और बंदना कुमारी अल्पकालिक चर्चा में आईएएस और दानिक्स अधिकारियों की बैठक में शामिल नहीं होने व फोन काॅल के जवाब नहीं देने का मामला उठाएंगे। 19 फरवरी की रात को मुख्यमंत्री आवास पर मुख्य सचिव के साथ हुई मारपीट मामले में अधिकारी बैठकों का लगातार बहिष्कार कर रहे हैं और लंच में दो मिनट का मौन रखकर विरोध दर्ज करा रहे हैं।

सीएम ऑफिस

हमारे बहुत से काम उपराज्यपाल ने रोक दिए, इसलिए देरी हुई

सीएम दफ्तर से जुड़े एक अधिकारी ने बताया, सरकार ने आउटकम बजट में एक साल के किए गए कार्यों का हिसाब-किताब जनता के सामने पेश कर दिया है। लेकिन जो काम नहीं हुए हैं उसमें बहुत से काम ऐसे हैं जिसे उपराज्यपाल ने रोका है। उपराज्यपाल कार्यालय की वजह से काम में देरी हुई है।

आईएएस ऑफिसर्स

एलजी के अधिकार क्षेत्र वाले मसलों पर चर्चा करने का फायदा नहीं

दिल्ली सरकार के एक उच्च पद पर कार्यरत आईएएस अधिकारी ने बताया कि नेशनल कैपिटल टेरेटरीज ऑफ दिल्ली अधिनियम में इस बात का जिक्र है कि एलजी व उनके अधिकार क्षेत्र वाले जमीन, कानून-व्यवस्था और सेवा विभाग से जुड़े मामलों पर चर्चा नहीं हो सकती। ऐसी चर्चा का कोई फायदा नहीं है।