• Home
  • Union Territory News
  • Delhi News
  • News
  • परीक्षा शुरू होने से दो घंटे पहले स्कूल पहुंचे आराेपी टीचर, पेपर का स्क्रीन शॉट ट्यूटर को वॉट्सएप किया
--Advertisement--

परीक्षा शुरू होने से दो घंटे पहले स्कूल पहुंचे आराेपी टीचर, पेपर का स्क्रीन शॉट ट्यूटर को वॉट्सएप किया

क्राइम ब्रांच ने सीबीएसई इकनॉमिक्स पेपर लीक केस पांच दिन में ही सुलझा दिया। 26 मार्च को इकनॉमिक्स का पेपर था। दोनों...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
क्राइम ब्रांच ने सीबीएसई इकनॉमिक्स पेपर लीक केस पांच दिन में ही सुलझा दिया। 26 मार्च को इकनॉमिक्स का पेपर था। दोनों आरोपी टीचर ऋषभ और रोहित परीक्षा शुरू होने से दो घंटे पहले कान्वेंट स्कूल पहुंच गए। उनकी ड्यूटी इंवीजिलेटर के तौर पर लगी थी। सब कुछ पहले से प्लान तो था ही, जैसे ही उन्हें मौका मिला इन्होंने पेपर बाहर निकाल लिया। फिर पेपर का स्क्रीन शॉट लेकर ट्यूटर को वॉट्सएप कर दिया। इकनॉमिक्स का पेपर आरोपियों ने प्रति उम्मीदवार दो से पांच हजार रुपये में बेचा था। इनमें 50% कमाई का शेयर आरोपी ट्यूटर तौकीर और 50% दोनों आरोपी टीचर के हिस्से में आया।

50 से ज्यादा ऐसे मोबाइल जब्त, जिनके वॉट्सएप से पेपर इधर-उधर भेजे गए

ऋषभ।

रोहित।

अब तक 80 लोगों से पूछताछ कर चुकी पुलिस

पेपर लीक केस में अभी तक 80 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है। पुलिस उस स्कूल के प्रिंसिपल और दो अन्य टीचरों से भी मामले में पूछताछ कर चुकी है। दोनों आरोपियों ने इस केस में प्रिंसिपल की मिलीभगत नहीं होने की बात कही है। पुलिस ने तीनों आरोपियों के मोबाइल कब्जे में लिए हैं। जिन मोबाइल के वॉट्सएप से पेपर इधर से उधर हुए, उन्हें भी जब्त किया गया है। इनकी संख्या 50 से ज्यादा है, जिन्हें लेबोरेट्री में जांच के लिए भेजा गया है।

सीबीएसई अधिकारियों को अभी क्लीन चिट नहीं | पुलिस ने इस केस में अभी सीबीएसई अधिकारियों को क्लीन चिट नहीं दी है। उनकी भूमिका अब भी जांच के दायरे में है। पुलिस का कहना है कि जब तक पूरा केस नहीं खुल जाता, तब तक किसी को कोई क्लीन चिट नहीं है। जरूरत के हिसाब से इस अधिकारियों से पूछताछ होती रहेगी।

...इधर एसएससी छात्रों का इंडिया गेट पर कैंडल मार्च

एसएससी छात्रों ने रविवार को इंडिया गेट के सामने कैंडल मार्च निकालकर प्रदर्शन किया।