Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» पानी के टैंक में डूबने से भाई-बहन की मौत पिता बोले- साजिश के तहत की गई हत्या

पानी के टैंक में डूबने से भाई-बहन की मौत पिता बोले- साजिश के तहत की गई हत्या

फतेहपुर बेरी इलाके के असोला गांव में शनिवार दोपहर पानी के टैंक में डूबने से भाई-बहन की दर्दनाक मौत हो गई। मरने वाले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 02:10 AM IST

पानी के टैंक में डूबने से भाई-बहन की मौत पिता बोले- साजिश के तहत की गई हत्या
फतेहपुर बेरी इलाके के असोला गांव में शनिवार दोपहर पानी के टैंक में डूबने से भाई-बहन की दर्दनाक मौत हो गई। मरने वाले बच्चों में साढ़े 3 साल की सृष्टि और ढाई साल का प्रतीक है। जांच कर रही पुलिस इस घटना को हादसा मानकर चल रही है, पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। पुलिस का कहना है कि दोनों ही बच्चों के शरीर के बाहरी हिस्से पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं। दोनों बच्चे असोला गांव में परिवार के साथ रहते थे। पिता बबलू ड्राइवर है, जबकि मां आरती गृहिणी है। यह हादसा गांव में पीर के नजदीक ओमप्रकाश उर्फ पप्पू के मकान परिसर में हुआ। 3 साल पहले बबलू इसी घर में किराये पर रहता था। अब वह घटनास्थल से करीब 50 मीटर दूर रहता है। शनिवार दोपहर बबलू के जीजा घर पर अाए थे, डेढ़ बजे तक दोनों बच्चे उनके साथ ही खेल रहे थे। कुछ देर बाद बच्चे खेलते हुए ओमप्रकाश वाले मकान में पहुंच गए। इस घर में एक महिला और पुरुष अलग-अलग किराये पर रहते हैं।

साढ़े तीन साल की सृष्टि और ढाई साल का प्रतीक बना हादसे का शिकार

वाटर टैंक में ढाई फीट पानी था, कैसे गिरे...

दोपहर को सबसे पहले किराये पर रह रही महिला ने दोनों बच्चों को हौदी में डूबते देखा था। इसके बाद उसने शोर मचा दिया और आस पड़ोस के लोगों की मदद से बच्चों को बाहर निकाला। घटना 3 बजे की है। बच्चों को लोगों ने निजी अस्पताल पहुंचाया, जहां से उन्हें एम्स ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। यहां डॉक्टरों ने दोनों बच्चों को मृत घोषित कर दिया। हौदी में ढाई फीट पानी था। दोनों बच्चे कैसे गिरे, यह अभी जांच में साफ नहीं हो सका है। पुलिस ने आंशका जताई है कि बच्चे खेलते वक्त या फिर पानी में नहाने की कोशिश में गिर गए होंगे।

जानलेवा लापरवाही...टैंक ढका न होने से हुई घटना

यह हौदी पानी स्टोर करने के थी, लेकिन मकान मालिक ने उसे कवर नहीं कर रखा था। इससे दोनों बच्चे हादसे की चपेट में आ गए। पुलिस ने मामले में लापरवाही से हुई मौत का केस दर्ज कर लिया।

संभव है कि गलत काम की कोशिश की गई हो : पिता

पिता बबलू का कहना है कि दोनों बच्चों की मौत महज एक हादसा नहीं है, उन्हें शक है कि किसी ने साजिश के तहत बच्चों को डुबोकर मार डाला। संभव है कि उनके साथ गलत काम करने की कोशिश भी की गई हो।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×