--Advertisement--

4 महीने में स्थायी वाटर मेंबर भी नियुक्त नहीं कर पाई सरकार

नई दिल्ली| राजधानी में तीन महीने से पेयजल किल्लत है। इसके बावजूद दिल्ली जल बोर्ड में वाटर मेंबर का पद खाली पड़ा है।...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
नई दिल्ली| राजधानी में तीन महीने से पेयजल किल्लत है। इसके बावजूद दिल्ली जल बोर्ड में वाटर मेंबर का पद खाली पड़ा है। दिल्ली सरकार 4 महीने में स्थायी वाटर मेंबर की नियुक्ति नहीं कर पाई है। पेयजल आपूर्ति का एक्शन प्लान और परियोजनाओं का प्रभावित होना लाजमी है। जल बोर्ड के इंजीनियरिंग विभाग में वाटर मेंबर पानी आपूर्ति की योजनाएं बनाने और उस पर अमल कराने के लिए सबसे बड़ा अधिकारी होता है। जल बोर्ड के पूर्व वाटर मेंबर आरएस त्यागी पिछले साल नवंबर में रिटायर हुए थे। तब से पद खाली है। जल बोर्ड ने प्रवीण भार्गव को मुख्य नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।