Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» दिल्ली की रिंग रेल मुंबई की तर्ज पर होगी विकसित

दिल्ली की रिंग रेल मुंबई की तर्ज पर होगी विकसित

रेल मंत्रालय दिल्ली में रिंग रेल को मुंबई और बेंगलुरु की तर्ज पर विकसित करने का विचार कर रहा है। रेल मंत्री पीयूष...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 04:05 AM IST

रेल मंत्रालय दिल्ली में रिंग रेल को मुंबई और बेंगलुरु की तर्ज पर विकसित करने का विचार कर रहा है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दैनिक भास्कर को बताया कि इसके निर्माण के लिए उनसे दिल्ली के पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, रमेश बिधूड़ी, महेश गिरि सहित अन्य भाजपा सांसद मिल चुके हैं। उन्होंने बताया कि इस संबंध में हमने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने साल 2017 में दिल्ली में रिंग रेल के निर्माण के आदेश दिए थे। उनके आदेश पर राइट्स के अधिकारी रिंग रेल की डीटेल रिपोर्ट प्रोजेक्ट (डीपीआर) तैयार कर रहे हैं। दिल्ली मंडल के डीआरएम आरएन सिंह ने बताया कि राइट्स को दिसंबर 2018 तक डीपीआर तैयार करके देना है।

मुनाफे का सौदा रिंग रेल

राइट्स के अधिकारियों का कहना है कि रिंग रेलवे के 21 स्टेशनों पर पैसेंजरों के लिए लास्ट माइल कनेक्टिवटी के साथ स्टेशनों पर आना-जाना हेजल फ्री हो तो रिंग रेल रेलवे के लिए मुनाफे का सौदा साबित होगा। राइट्स और दिल्ली में कई प्रशासनिक पदों के साथ मुख्य सचिव के पद पर काम करने वाले ओमेश सहगल का कहना है कि रिंग रेल के 21 स्टेशनों और फरीदाबाद, वल्लभगढ़, पलवल, गाजियाबाद और दादरी तक के कुल 50 स्टेशनों को फिर से ठीक करके उन तक सही तरीके से कनेक्टिविटी की जाए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×