--Advertisement--

डेढ़ गुना मिलना तो दूर, लागत भी नहीं निकल पा रहे दाल और आलू किसान

बजट में सरकार ने किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना भुगतान दिलाने का सपना एक बार फिर से दिखा दिया है। लेकिन दाल किसान...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 04:05 AM IST
बजट में सरकार ने किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना भुगतान दिलाने का सपना एक बार फिर से दिखा दिया है। लेकिन दाल किसान पिछले सवा साल से लागत से 25 फीसदी कम दाम पर दाल बेचने को मजबूर हैं। मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में किसान सरकार द्वारा तय न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से 1000 रुपए प्रति क्विंटल कम कीमत पर दालें बेच रहे हैं। आलू किसान तो लागत के आधे मूल्य पर थोक मंडी में आलू बेच रहे हैं। उत्तर प्रदेश के आलू किसान हरेंद्र नेहरा के मुताबिक एक क्विंटल आलू के उत्पादन में बुवाई से लेकर थोक मंडी तक पहुंचाने में 700-750 रुपए प्रति क्विंटल की लागत आती है। लेकिन मंडियों में आलू के भाव 300-400 रुपए प्रति क्विंटल चल रहे हैं। व्यापारियों के मुताबिक सरकार कहती तो है, लेकिन अभी तक किसी को डेढ गुना दाम मिला नहीं है।