--Advertisement--

पवन ऊर्जा की दरें बढ़ीं, नीलामी में एक यूनिट की बोली 2.44 रु.

पवन ऊर्जा की दरों में जारी गिरावट के रुख पर विराम लग गया है। 2,000 मेगावाट क्षमता के लिए हुई ताजा नीलामी में इसकी दर...

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 04:10 AM IST
पवन ऊर्जा की दरें बढ़ीं, नीलामी में एक यूनिट की बोली 2.44 रु.
पवन ऊर्जा की दरों में जारी गिरावट के रुख पर विराम लग गया है। 2,000 मेगावाट क्षमता के लिए हुई ताजा नीलामी में इसकी दर बढ़कर 2.44 रुपए प्रति यूनिट पर पहुंच गई। मंगलवार को यह नीलामी सोलर एनर्जी कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसईसीआई) ने आयोजित की थी। सूत्रों के मुताबिक इस नीलामी में छह कंपनियों ने भाग लिया।

इनमें टोरेंट पावर, आईनॉक्स विंड इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विसेज, ग्रीन इन्फ्रा विंड एनर्जी और रिन्यू पावर सबसे कम बोली लगाने वाली कंपनियों के रूप में उभरकर सामने आईं। इन्होंने 2.44 रुपए प्रति यूनिट दर की पेशकश की। अदाणी ग्रीन एनर्जी और अलफानार कंपनी ने 2.45 रुपए प्रति यूनिट का रेट दिया। इससे पहले पिछले साल पवन ऊर्जा की दर घटते 2.43 रुपए प्रति यूनिट के स्तर पर आ गई थी। यह अब तक का इसका निचला स्तर है। यह नीलामी गुजरात ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड (जीयूवीएनएल) ने 500 मेगावाट क्षमता के लिए 21 दिसंबर को आयोजित की थी। 2.43 रुपए प्रति यूनिट पिछले साल पवन ऊर्जा की दर का तीसरा निचला स्तर था।

2017 की शुरुआत में एसईसीआई द्वारा आयोजित एक गीगावाट की नीलामी के पहले दौर में इसकी दर घटकर 3.46 रुपए प्रति यूनिट पर आ गई थी। इसके बाद अक्टूबर में हुई दूसरे दौर की नीलामी में यह और घटकर 2.64 रुपए प्रति यूनिट पर आ गई थी। देश में पवन ऊर्जा की कुल स्थापित क्षमता 32.7 गीगावाट है। सरकार का पांच साल में (2022 तक) देश में पवन ऊर्जा की 60 गीगावाट क्षमता हासिल करने का लक्ष्य है। सरकार की वित्त वर्ष 2018-19 और 2019-20 में हर साल 10-10 गीगावाट के लिए नीलामी करने की योजना है।

X
पवन ऊर्जा की दरें बढ़ीं, नीलामी में एक यूनिट की बोली 2.44 रु.
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..