--Advertisement--

दो हजार का नोट 800 में खरीदकर 1200 में बेच देता था, अब तक दो करोड़ के नोट चलाए

12 साल से जाली नोटों की तस्करी करने वाला 7.50 लाख के नकली नोटों के साथ अरेस्ट

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 04:59 AM IST
accused arrested for fraudulent notes

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 7.50 लाख के जाली नोटों के साथ एक शातिर तस्कर को गिरफ्तार किया है। यह तीन बार पहले भी गिरफ्तार हो चुका है। पुलिस का दावा है कि नोट इतनी बढ़िया क्वालिटी के हैं कि आम आदमी तो पहचान ही नहीं कर सकता। इंफ्रारेड किरणों से ही असली और नकली की पहचान हो सकती है। फिलहाल, पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

उपायुक्त पीएस कुशवाहा ने बताया कि एसीपी अत्तर सिंह की टीम को सूचना मिली थी कि मालदा में रहने वाला दीपक मंडल जाली नोटों की खेप दिल्ली लाने वाला है। जांच के दौरान पता चला कि वह इंडो-बांग्लादेश बार्डर पर मालदा से नकली नोटों का संचालन करता है। तीन माह की मेहनत के बाद गुरुवार को सूचना मिली कि मंडल नकली नोटों के साथ दिल्ली के खानपुर बस स्टैंड पर आने वाला है। देर रात टीम ने उसे धर दबोचा। पहले तो नोट देखकर पुलिसकर्मी भी चकरा गए। बाद में मशीन से नकली होने का पता चला।

12 साल से नोटों की तस्करी कर रहा: आरोपी ने बताया कि करीब 12 साल से नकली नोटों की तस्करी में लगा है। 2010 में वह और उसका साथी विकास मालदा में तीन लाख के नकली नोटों के साथ पकड़ा गया था। मामले में छह साल की सजा हुई थी। जमानत पर बाहर आने के बाद 2013 में इलाहाबाद में दोनों दोबारा 2.75 लाख के नकली नोटों के साथ पकड़ा गए। जेल से बाहर आकर दोनों फिर नकली नोटों की सप्लाय में जुट गए।

दो हजार के एक नोट पर 400 रु. का मुनाफा मिलता था: मंडल ने पुलिस को बताया कि वह इंडो-बांग्लादेश बार्डर पर अपने सोर्स से 800 रु. में दो हजार का एक नोट खरीदकर दिल्ली-एनसीआर के अलावा देश के दूसरे राज्यों में 1200 रु. में बेच देता था। इस प्रकार उसे दो हजार के एक नोट पर 400 रु. का मुनाफा मिलता था।

नोट ऐसे कि असली या नकली का पता नहीं लगाया जा सकता: आरोपी ने बताया कि वह एक साल में दो करोड़ रु. के नकली नोट चला चुका है। वह बांग्लादेश बॉर्डर से जाली नोट खरीद लाता है। दीपक के पास से बरामद नोट अब तक पकड़े गए नोटों में सबसे बढ़िया किस्म के हैं। नोट में कई महत्वपूर्ण सुरक्षा मानक मौजूद हैं। हाथ में लेकर असली या नकली का पता नहीं लगाया जा सकता है।

X
accused arrested for fraudulent notes
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..