• Hindi News
  • Union Territory
  • New Delhi
  • News
  • New Delhi एपेक्स शूज : ऐसी कंपनी जो किसानों और मेहनतकश मजदूरों के लिए बनाती है जूते
विज्ञापन

एपेक्स शूज : ऐसी कंपनी जो किसानों और मेहनतकश मजदूरों के लिए बनाती है जूते / एपेक्स शूज : ऐसी कंपनी जो किसानों और मेहनतकश मजदूरों के लिए बनाती है जूते

Bhaskar News Network

Sep 13, 2018, 03:12 AM IST

News - नई दिल्ली | ऐसे दौर में जब ज्यादातर कंपनियों का फोकस शहरी ग्राहकों पर अधिक है, देश में एक कंपनी ऐसी भी है जो किसानों,...

New Delhi - एपेक्स शूज : ऐसी कंपनी जो 
 किसानों और मेहनतकश मजदूरों के लिए बनाती है जूते
  • comment
नई दिल्ली | ऐसे दौर में जब ज्यादातर कंपनियों का फोकस शहरी ग्राहकों पर अधिक है, देश में एक कंपनी ऐसी भी है जो किसानों, मजदूरों और ग्रामीणों के लिए 50 साल से फुटवियर बना रही है। नाम है एपेक्स शूज। इसके संस्थापक दर्शन सिंह ने बताया कंपनी पीवीसी (प्लास्टिक) जूते बनाती है। इनकी मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र, गुजरात और जम्मू-कश्मीर जैसे राज्यों में ग्रामीण इलाकों में काफी डिमांड हैं। सबसे ज्यादा बिक्री महाराष्ट्र में होती है।

उन्होंने बताया, ‘कंपनी की दिल्ली और बहादुरगढ़ में पांच यूनिट हैं। उत्पादन के चरण में कंपनी के पीवीसी शूज कड़े मानकों और अंतरराष्ट्रीय स्तर के टेस्ट से होकर गुजरते हैं। इसीलिए लोगों के बीच इनकी पैठ भी बनी हुई है। जूते बनाने के लिए कंपनी कोरिया और चीन के प्लास्टिक का भी इस्तेमाल करती है।’

स्पोर्ट्स शूज, स्कूल शूज सेगमेंट में भी उतरी: कंपनी ने फॉर्मल शूज के साथ स्पोर्ट्स, स्कूल और सेफ्टी शूज के सेगमेंट में भी कदम रख दिया है। इन्हें वह ‘कोस्टर’ ब्रांड नाम से बेच रही है। हाल में कंपनी ने सॉक्स भी लॉन्च किए हैं।

नकली प्रोडक्ट बनाने वाले हैं सबसे बड़ी दिक्कत : सिंह ने बताया कि उनकी सबसे बड़ी चिंता नकली प्रोडक्ट बनाने वाले हैं। प्रोडक्ट की सबसे ज्यादा डुप्लीकेसी इंदौर में हो रही है।

X
New Delhi - एपेक्स शूज : ऐसी कंपनी जो 
 किसानों और मेहनतकश मजदूरों के लिए बनाती है जूते
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन