Hindi News »National »Latest News »National» CBSE To Send Exams Papers To Centers Through CD And E-Link

ई-लिंक और सीडी के जरिए एग्जाम सेंटर तक पेपर पहुंचाएगा सीबीएसई, अगले साल से होगी शुरुआत

पासवर्ड प्रोटेक्टेड होगा प्रोसेस, एग्जाम सेंटर पर ही निकलेंगे प्रिंट

Bhaskar News | Last Modified - May 02, 2018, 09:42 AM IST

  • ई-लिंक और सीडी के जरिए एग्जाम सेंटर तक पेपर पहुंचाएगा सीबीएसई, अगले साल से होगी शुरुआत, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड के नतीजे 20 मई के बाद आ सकते हैं।- सिंबॉलिक
    • पेपर लीक की वजह से रिजल्ट में देरी नहीं होगी- सीबीएसई
    • दिल्ली सरकार ने 12 फर्जी एजुकेशन बोर्ड की लिस्ट जारी की

    नई दिल्ली. सीबीएसई अब परीक्षा केंद्रों पर प्रश्न पत्रों की हार्ड कॉपी नहीं भेजेगा। अगले साल से 10वीं और 12वीं की परीक्षा के प्रश्न पत्र ई-लिंक और सीडी के जरिए परीक्षा केंद्रों पर भेजे जाएंगे। पिछले दिनों हुए पेपर लीक मामले से सबक लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने यह फैसला लिया है। पेपर लीक के बाद 2 अप्रैल को सीबीएसई ने ई-लिंक प्रोसेस का ट्रायल किया था।

    पासवर्ड प्रोटेक्टेड होंगे ई-लिंक और सीडी

    - विभाग के सचिव अनिल स्वरूप ने बताया कि जिन स्कूलों में इंटरनेट सुविधा नहीं है, वहां सीडी भेजी जाएगी। दोनों ही माध्यम पासवर्ड से सुरक्षित रहेंगे।

    प्रिंट आउट परीक्षा केंद्र पर ही निकाला जाएगा।

    पेपर लीक की सीबीआई जांच की याचिका खारिज
    - सुप्रीम कोर्ट ने सीबीएसई पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच की याचिका मंगलवार को खारिज कर दी। सीबीआई जांच संबंधी याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि वह इस मामले में दखल नहीं दे सकता। इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता संजय सचदेव की ओर से याचिका दायर की गई थी।

    रिजल्ट में नहीं होगी देरी
    - सीबीएसई ने कहा है कि 12वीं क्लास का इकोनॉमिक्स का पेपर दोबारा होने से रिजल्ट पर असर नहीं पड़ेगा। जांच का काम तेजी से चल रहा है और रिजल्ट तय समय पर घोषित कर दिए जाएंगे। पेपर लीक की वजह से 25 अप्रैल को फिर के ये परीक्षा करवाई गई थी। 10वीं और 12वीं बोर्ड के नतीजे 20 मई के बाद आने की संभावना है।

    दिल्ली में चल रहे हैं 12 फर्जी एजुकेशन बोर्ड

    - दिल्ली सरकार ने अलर्ट करते हुए कहा है कि 12 फर्जी एजुकेशन बोर्ड संचालित हो रहे हैं जिनसे छात्रों और अभिभावकों को सतर्क रहना चाहिए। दिल्ली सरकार का कोई स्टेट बोर्ड नहीं है। दिल्ली में सिर्फ तीन एजुकेशन बोर्ड हैं जिनमें सीबीएसई, आईसीएसई और एनआईओएस शामिल हैं।

    दिल्ली में कौन-कौन से फर्जी एजुकेशन बोर्ड ?

    - उर्दू एजुकेशन बोर्ड
    - ग्रामीण मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान
    - दिल्ली बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन
    - द सेंट्रल बोर्ड ऑफ हायर सेकंडरी एजुकेशन
    - नेशनल ओपन स्कूल
    - बोर्ड और सेकंडरी ओपन एजुकेशन
    - हायर सेकंडरी एजुकेशन बोर्ड ऑफ दिल्ली
    - स्टेट काउंसिल ऑफ सीनियर सेकंडरी ओपन एजुकेशन
    - दिल्ली बोर्ड ऑफ सीनियर सेकंडरी एजुकेशन
    - बोर्ड ऑफ हायर सेकंडरी एजुकेशन
    - काउंसिल ऑफ सेकंडरी एंड हायर सेकंडरी एजुकेशन
    - सेंट्रल बोर्ड ऑफ हायर एजुकेशन

  • ई-लिंक और सीडी के जरिए एग्जाम सेंटर तक पेपर पहुंचाएगा सीबीएसई, अगले साल से होगी शुरुआत, national news in hindi, national news
    +1और स्लाइड देखें
    पेपर लीक से बचने के लिए टेक्नोलॉजी की मदद लेगा सीबीएसई- फाइल
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From National

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×