--Advertisement--

नॉर्थ एमसीडी के मेयर कभी ट्यूशन पढ़ाकर करते थे गुजारा, ईस्ट एमसीडी के मेयर करते थे 20 रुपए की मजदूरी

शुक्रवार को नॉर्थ और ईस्ट एमसीडी को भी मिले नए मेयर, मुश्किलों को मात दे दोनों ने तय किया यहां तक का सफर।

Dainik Bhaskar

Apr 28, 2018, 08:17 AM IST
आदेश गुप्ता शुरू से ही भाजपा में सक्रिय रहने के चलते वर्ष 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। अब वह मेयर हैं। आदेश गुप्ता शुरू से ही भाजपा में सक्रिय रहने के चलते वर्ष 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। अब वह मेयर हैं।

नई दिल्ली. साउथ एमसीडी के बाद शुक्रवार को नॉर्थ और ईस्ट एमसीडी में भी मेयर चुन लिए गए हैं। आदेश गुप्ता को नॉर्थ एमसीडी और बिपिन बिहारी सिंह ईस्ट एमसीडी का मेयर चुना गया। बिपिन निर्विरोध चुने गए। हालांकि, दोनों मेयरों का यहां तक का सफर काफी मुश्किलों भरा रहा है। आदेश कभी ट्यूशन पढ़ाकर गुजारा करते थे तो बिपिन 20 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से दिहाड़ी करते थे।

आदेश गुप्ता: कॉस्मेटिक उत्पाद की ट्रेडिंग भी की

- यूपी के आदेश 1994 में बीएससी करने के बाद नौकरी की तलाश में दिल्ली आ गए। काफी तलाश के बाद जब नौकरी नहीं मिली तो ट्यूशन पढ़ाने लगे। दो साल तक ट्यूशन पढ़ाने के बाद अपना व्यवसाय करने की ठानी।

- कॉस्मेटिक उत्पाद की ट्रेडिंग का काम शुरू किया, लेकिन उसमें भी नाकामयाबी मिली। इसके बाद वह फिर से टयूशन पढ़ाने लगे। इसी दौरान उन्होंने सीपीडब्ल्यूडी में कॉन्ट्रेक्टर के लिए रजिस्ट्रेशन करा लिया।

- इस काम में उन्हें कामयाबी मिलती चली गई। उन्होंने दिल्ली में अपना घर भी खरीद लिया। छात्र राजनीति में रुझान होने के कारण युवा मोर्चा में भी सक्रिय रहे। शुरू से ही भाजपा में सक्रिय रहने के चलते 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। अब वह मेयर हैं।

बिपिन बिहारी: जहां मजदूर थे उसी कंपनी में मैनेजर बने

- बिपिन झारखंड के रहने वाले हैं। 1992 में उन्होंने बनारस के पास अनपरा में लार्सन एंड ट्रूबो के पावर प्रोजेक्ट में मजदूरी का काम शुरू किया। इसके एवज में उन्हें प्रतिदिन 20 रुपए मिलते थे। कुछ महीने के बाद उसी कंपनी में वह स्टोर मैनेजर बन गए। फिर इसी कंपनी में छोटी-मोटी ठेकेदारी करने लगे। अब वह बड़े ठेकेदार हैं।

- कंपनी में देश के विभिन्न हिस्सों में ठेकेदारी करते हैं। बिपिन 2000 में प्रगति पावर प्रोजेक्ट का काम करने दिल्ली आए और पांडव नगर इलाके में बस गए। वह भाजपा से जुड़े।

- मनोज तिवारी के दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बनने पर इन्हें पूर्वांचल मोर्चा का अध्यक्ष बनाया गया। इस पद पर 6-7 महीने ही हुए थे कि पटपड़गंज वार्ड से उन्हें निगम का टिकट मिल गया और पार्षद बन गए। पहले साल ही वह डिप्टी मेयर बनाए गए। अब वह ईस्ट एमसीडी के मेयर हैं।

एक ने साफ-सफाई और दूसरे ने राजस्व वृद्धि पर बल दिया

मेयर चुने जाने के बाद आदेश ने खराब आर्थिक स्थिति से जूझ रही नॉर्थ एमसीडी को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राजस्व वृद्धि पर बल दिया। ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रॉपर्टी टैक्स के दायरे में लाया जाएगा। वहीं, बिपिन ने कहा कि स्वच्छता हमारी प्राथमिकता है। ईस्ट एमसीडी में कर्मचारियों के वेतन की समस्या हमेशा बनी रहती है। इसके लिए दिल्ली सरकार सीधे तौर पर जिम्मेदार है।

ईस्ट एमसीडी के मेयर बिपिन झारखंड के रहने वाले हैं। ईस्ट एमसीडी के मेयर बिपिन झारखंड के रहने वाले हैं।
X
आदेश गुप्ता शुरू से ही भाजपा में सक्रिय रहने के चलते वर्ष 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। अब वह मेयर हैं।आदेश गुप्ता शुरू से ही भाजपा में सक्रिय रहने के चलते वर्ष 2017 में पटेल नगर से एमसीडी चुनाव का टिकट मिला और चुनाव जीत गए। अब वह मेयर हैं।
ईस्ट एमसीडी के मेयर बिपिन झारखंड के रहने वाले हैं।ईस्ट एमसीडी के मेयर बिपिन झारखंड के रहने वाले हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..