Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Government Of Delhi Will Amend The Motor Vehicles Act

दिल्ली: वाहनों के रजिस्ट्रेशन अौर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने को मोबाइल नंबर जरूरी; मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन करेगी दिल्ली सरकार

जब्त लाइसेंस की ट्रैकिंग में काम आएंगे मोबाइल नंबर, चालान काटे जाने से लेकर निलंबन समाप्त होने तक एसएमएस से मिलेगी सूचना

अखिलेश कुमार | Last Modified - Aug 13, 2018, 07:08 AM IST

दिल्ली: वाहनों के रजिस्ट्रेशन अौर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने को मोबाइल नंबर जरूरी; मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन करेगी दिल्ली सरकार

लिंक के जरिए बदल सकते हैं मोबाइल नंबर और घर का एड्रेस: दिल्ली सरकार अगले महीने से मुहैया कराएगी लिंक

नई दिल्ली.दिल्ली में वाहनों के रजिस्ट्रेशन और ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने को मोबाइल नंबर देना अनिवार्य होगा। इसके लिए दिल्ली सरकार दिल्ली मोटर वाहन अधिनियम-1993 में संशोधन करेगी। प्रस्ताव परिवहन उपायुक्त को भेजने को कहा गया।

सरकार अगले महीने से एक लिंक मुहैया कराएगी, जिससे मोबाइल नंबर और एड्रेस अपडेट करना होगा। सॉफ्टवेयर बना लिया गया है। यह लिंक दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर भी होगी। लिंक के जरिए जो एड्रेस आप वेबसाइट पर बदलेंगे, वह आरसी में नहीं बदलेगी।

पैसा-समय बचाने को वॉट्सएप पर नोटिस भेज रही ट्रैफिक पुलिस: परिवहन विभाग और ट्रैफिक पुलिस जो चालान भेजती है, उनमें 30-35% गलत या अधूरा एड्रेस होता है, जो वापस आ जाते हैं। इसके बाद एसएमएस भेजा जाता है, लेकिन मोबाइल नंबर गलत होने से नहीं पहुंचते हैं। ट्रैफिक पुलिस सालाना 2 लाख चालान भेजती है, जिस पर बड़ी राशि खर्च होती है। इसलिए चालान काटते समय लाइसेंस जब्त के साथ मोबाइल नंबर लिखा जाएगा। समय और पैसा बचाने को वॉट्सएप पर नोटिस भेजना भी शुरू कर दिया गया है।

लाख चालान भेजती है ट्रैफिक पुलिस सालाना।
ऐसे काम करेगा सिस्टम:अधिकारी ने बताया कि ड्राइविंग लाइसेंस के लिए सारथी और आरसी में एड्रेस और मोबाइल नंबर अपडेट करने के लिए वाहन-4 में ऑनलाइन व्यवस्था की जाएगी। आपकी आरसी पर पता नहीं बदलेगा और कोई पैसा खर्च नहीं होगा। वाहन चालक का मोबाइल नंबर विभाग के डाटा बैंक में हो, डीएल रिन्यू, स्थायी लाइसेंस बनवाने, रजिस्ट्रेशन और एचपी हटवाने को ओटीपी की अनिवार्यता को लागू होगी।
लागू होगी ओटीपी की अनिवार्यता:सरकार की ओर से लिंक मिलने के बाद परिवहन विभाग की वेबसाइट से आपको मोबाइल नंबर और एड्रेस अपडेट करना होगा। इसके बाद लिंक पर क्लिक करने के बाद मोबाइल नंबर मांगा जाएगा। इस पर ओटीपी आएगा। ओटीपी डालने के बाद आपको इंजन और चेसिस नंबर भरना होगा। एक जगह आपको वर्तमान एड्रेस भरना होगा। इसके बाद अपडेट बटन पर क्लिक करते ही जानकारी अपडेट हो जाएगी। सुरक्षा के लिए नाम अधूरा दिखेगा और आरसी पर लिखा एड्रेस दिखाई नहीं देगा। मोबाइल नंबर और एड्रेस बिना किसी फीस के आप कई बार बदल सकते हैं।
जब्त डीएल परिवहन विभाग के दफ्तर में मिलेंगे :दिल्ली ट्रैफिक पुलिस चालान करते समय अगर ड्राइविंग लाइसेंस जब्त करती है तो वह आपसे मोबाइल नंबर लेगी। जब्त ड्राइविंग लाइसेंस परिवहन विभाग के पास पहुंचेगा। लाइसेंस की निलंबन अवधि खत्म होने पर मोबाइल पर एसएमएस आएगा कि लाइसेंस बहाल हो गया है। इसे डाक से भेजा जाएगा। लाइसेंस नहीं मिलने की दशा में आप परिवहन मुख्यालय में एक जगह से लाइसेंस ले सकेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×