--Advertisement--

38 साल की नौकरी में मिली कुल 2 करोड़ 94 लाख रुपए सैलरी, पड़ा छापा तो मिली 250 करोड़ की संपत्ति

34 घंटे चला नोएडा प्राधिकरण के एपीई बृजपाल पर आयकर विभाग का छापा।

Dainik Bhaskar

Jun 09, 2018, 04:42 PM IST
नोएडा प्राधिकरण के एपीई बृजपाल का घर नोएडा प्राधिकरण के एपीई बृजपाल का घर

नोएडा. नोएडा प्राधिकरण के असिस्टेंट प्रोजेक्ट इंजीनियर बृृजपाल चौधरी पर गुरुवार को शुरू हुई इनकम टैक्स छापे की कार्रवाई शुक्रवार शाम खत्म हुई। 34 घंटे चली छापेमारी में बृजपाल की 250 करोड़ से ज्यादा की चल-अचल संपत्ति का पता चला है। इसमें 10 लाख कैश और 20 तोला सोना शामिल है। टीम को 5 बैंकों में खाते और लॉकर भी मिले हैं। आईटी अफसरों के अनुसार, बृजपाल को पुश्तैनी जमीन के अधिग्रहण के बदले मुआवजा भी मिला था।


- बृजपाल को 1981 में प्राधिकरण में पहली पाेस्टिंग बतौर जूनियर इंजीनियर (वेतन 40 हजार) मिली थी।

- 2001 में उसे प्रमोशन देकर एपीई बना दिया गया। वर्तमान में उसे करीब 1 लाख रुपए सैलरी मिल रही है। यानी 1981 से अब तक कुल सैलरी करीब 2 करोड़ 94 लाख ही मिली है।

- उधर, छापे की कार्रवाई के बाद नोएडा प्राधिकरण ने बृजपाल को सस्पेंड कर विभागीय जांच शुरू कर दी है।

6 महीने पड़ताल के बाद 10 ठिकानों पर की गई छापेमारी

आय से अधिक संपत्ति के मामले में बृजपाल पर छापे की यह कार्रवाई 6 माह पड़ताल के बाद की गई है। पुख्ता सबूत मिलने के बाद इनकम टैक्स विभाग ने लगातार 34 घंटे के सर्च ऑपरेशन के दौरान बृजपाल के 10 ठिकानों पर छापेमारी की। इनमें से 3 पर गुरुवार देर रात को ही सर्च ऑपरेशन पूरा कर लिया गया था जबकि अन्य ठिकानों पर शुक्रवार शाम तक सर्च चलता रहा।

सूत्रों के अनुसार, अब तक बृजपाल की 22 प्रॉपर्टी के बारे में जानकारी मिली है। बृजपाल और परिवार के सभी सदस्यों से कई घंटों तक लगातार हुई पूछताछ के बीच एपीई ने अचानक तबीयत खराब होने का कह अधिकारियों से अस्पताल में भर्ती होने की बात कही। इस पर अफसरों ने डॉक्टरों की एक टीम को एपीई के घर पर ही बुला लिया।

- फरीदाबाद के सेक्टर-91 में आलीशान कोठी
- नोएडा सेक्टर-52 में 450 वर्गमीटर जमीन पर मकान
- सेक्टर-33 में 3 मंजिला कोठी
- पांच बैंकों में खाते व लॉकर
- सेक्टर-63 सी-ब्लॉक में पूजा केबल के नाम से कंपनी, मोती महल नाम से भवन
- सेक्टर-66 का प्लॉट
- सेक्टर-110 में रामा बैंक्वेट हॉल
- पिलुखवा में पब्लिक स्कूल
- मोदी नगर में कृषि फाॅर्म हाउस
- नोएडा से बुलंदशहर तक कई प्लॉट
- 20 तोला सोना, 10 लाख कैश

यादव सिंह पर 4 दिन की छापेमारी में मिली थी 1000 करोड़ की संपत्ति

नवंबर 2014 में नोएडा प्राधिकरण के चीफ इंजीनियर यादव सिंह के नोएडा, दिल्ली और गाजियाबाद स्थित 20 ठिकानों पर आयकर विभाग के 130 लोगों ने छापेमारी की थी। उस दौरान नोएडा स्थित घर में खड़ी ऑडी कार से 10 करोड़ रुपए कैश मिले थे। इसके अलावा घर से 60 लाख रुपए कैश, 2 किलो सोने व हीरे की ज्वैलरी मिली थी। यादव सिंह के पास 1000 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति का पता चला था।

इस घर पर हुई रेड। इस घर पर हुई रेड।
X
नोएडा प्राधिकरण के एपीई बृजपाल का घरनोएडा प्राधिकरण के एपीई बृजपाल का घर
इस घर पर हुई रेड।इस घर पर हुई रेड।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..