--Advertisement--

दिल्ली ट्रिपल मर्डर केसः सामने आया एक 'गुप्त' कमरा, 3 मर्डर करने वाला 19 साल का सूरज 12 दोस्तों के साथ इसे खास मकसद के लिए करता था यूज

दक्षिणी दिल्ली के वसंतकुंज इलाके में बुधवार तड़के हुए ट्रिपल मर्डर में नए खुलासे।

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 05:57 PM IST

नई दिल्ली। दक्षिणी दिल्ली के वसंतकुंज इलाके में बुधवार तड़के हुए ट्रिपल मर्डर में नए खुलासे सामने आ रहे हैं। अपने मम्मी-पापा और बहन की हत्या करने वाला 19 साल का सूरज मौजमस्ती का शौकीन है। उसके 12 दोस्तों का एक ग्रुप है, जिनमें 7 लड़के और 4 बचपन के दोस्त हैं। इनमें लड़कियां भी शामिल हैं। आरोपी अपनी फैमिली को छोड़ने के लिए तैयार था, लेकिन दोस्तों के ग्रुप को नहीं। उल्लेखनीय है कि सूरज ने अपने पापा मिथलेश(40), मां सिया और बहन नेहा(16) की चाकू और कैंची के वार से हत्या कर दी थी।


- दोस्तों ने मिलकर घर के नजदीक ही वसंतकुंज एरिया में एक कमरा किराये पर ले रखा था, जो इनकी मौजमस्ती का ठिकाना था। बेटे के इस फ्रैंड सर्किल का मिथलेश खुलकर विरोध करते थे। पुलिस ने जब दोस्तों के कमरे में छापा मारा, तो वहां से बीयर की खाली बोतलें और हुक्का मिला। इन दोस्तों को ऑनलाइन गेम्स की लत लगी हुई है। डीसीपी देवेंद्र आर्य ने बताया कि गुरुवार को सूरज को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

- नशे का आदी सूरज जब 12वीं में हुआ तब पिता ने उसे पीटा था। बस तभी उसने मर्डर का प्लान बना लिया था। सूरज ने क्राइम पेट्रोल देखकर पूरी योजना तैयार की थी। पहले से घर में कैंची और चाकू छुपाए। इसके बाद तड़के 3 बजे उसने सबसे पहले मुंह दबाकर बहन पर चाकू से वार किए। इसी तरह मां और पिता को भी उसने मौत के घाट उतार दिया।


- सूरज ने अपने अपहरण की कहानी भी गढ़ी थी। सितंबर, 2013 में सूरज घर से भाग गया था। लेकिन वापस लौटने पर खुद के किडनैप की बात बताई थी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended