Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» नरेला में कैश वैन से 12 लाख समेत 10 बड़ी लूट और 5 हत्याओं में शामिल गैंग का पर्दाफाश, 5 अरेस्ट

नरेला में कैश वैन से 12 लाख समेत 10 बड़ी लूट और 5 हत्याओं में शामिल गैंग का पर्दाफाश, 5 अरेस्ट

नरेला इलाके में दिनदहाड़े कैश वैन से 12 लाख की लूट और गार्ड व कैशियर की हत्या का मामला सुलझ गया है। दिल्ली पुलिस की...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:05 AM IST

नरेला में कैश वैन से 12 लाख समेत 10 बड़ी लूट और 5 हत्याओं में शामिल गैंग का पर्दाफाश, 5 अरेस्ट
नरेला इलाके में दिनदहाड़े कैश वैन से 12 लाख की लूट और गार्ड व कैशियर की हत्या का मामला सुलझ गया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने वारदात में शामिल 5 बदमाशों को अरेस्ट किया है। गिरोह 10 बड़ी लूट और 5 मर्डर में शामिल था। इनमें से एक को बुधवार सुबह एनकाउंटर के बाद पकड़ा गया। पुलिस और बदमाश दोनों तरफ से 13 राउंड गोलियां चलीं। नौ गोलियां पुलिस ने 4 बदमाश ने चलाईं। दो पुलिसकर्मियों की बुलेट प्रूफ जैकेट में गोली लगी, जिससे जान बच गई। पैर में गोली लगने से बदमाश को मौके पर दबोच लिया गया। पुलिस ने आरोपियों के पास से 3 पिस्टल .32 बोर, एक देसी कट्टा 315 बोर, 5 जिंदा कारतूस समेत 1 मैगजीन व 8.2 लाख कैश बरामद किए हैं। आरोपियों में महावीर सिंह (34), दीपक उर्फ मंतर (32), गुरुचरन सिंह (35), विकास भारद्वाज उर्फ धर्मेंद्र (24) नरेला के रहने वाले हैं, जबकि भारत भूषण (30) घोघा डेयरी निवासी है। अधिकारी ने बताया कि 26 अप्रैल को ढाई बजे डीएसआईडीसी वर्धमान मॉल के पास 3बदमाशों ने एसआईएस कंपनी की कैश वैन को टारगेट किया था। कंपनी के कर्मचारी मॉल में वाइन शॉप से कैश लेने के लिए आए थे। बदमाशों ने रजनीकांत (कैशियर) व प्रेमकुमार (गार्ड) पर फायरिंग की और फिर बक्से में रखे 12 लाख लूटकर फरार हो गए।

दो पुलिसवालों को भी गोली लगी, बुलेट प्रूफ जैकेट के कारण बचे

दिल्ली के नरेला इलाके में बैंक की कैश वैन लूट कर गार्ड की हत्या करने वाले पकड़े गए आरोपी।

सुबह खबर मिली कि बदमाश साथियों से मिलने खैर गांव नहर आएगा...

बुधवार तड़के पुलिस को सूचना मिली भारत भूषण सुबह पांच से छह बजे के बीच अपने साथियों से मिलने खैर गांव नहर आएगा। यह जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम ने शाहबाद डेरी एरिया में ट्रैप लगा दिया। सुबह 5 बजकर 20 मिनट पर प्रहलादपुर की ओर से आ रही ईको कार को पुलिस ने रुकवाने का सिग्नल दिया। चालक ने गाड़ी नहीं रोकी और भगाने की कोशिश की। इंस्पेक्टर संजीव कुमार ने चालक को चालक को गाड़ी रोकने की चेतावनी भी दी। लेकिन वह नहीं माना। आखिरकार, पुलिस ने कार के टायर पर फायर कर दिया। टायर पर गोली लगने के बाद गाड़ी का संतुलन बिगड़ गया और वह डिवाइडर से जा टकराई।

बड़ी वारदात के बाद मत्था टेकने तीर्थस्थल जाते थे बदमाश

कुछ दिन पहले नरेला में हत्या और कैश लूटने की वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाशों ने बीच में ही नाले में बाइक फेंक दी थी। आगे उनका साथी कार लिए मौजूद था, जिसके बाद पकड़े जाने के डर से सभी हरिद्वार चले गए। यह खुलासा आरोपियों से पूछताछ के बाद हुआ है। आरोपियों ने बताया कि हर बड़ी वारदात के बाद वे हरिद्वार, ऋषिकेश और शिर्डी जैसे तीर्थस्थलों पर मत्था टेकने के लिए चले जाते थे।

कार के टायर में गोली लगने के बाद बदमाश पिस्टल लेकर पैदल भागा

चालक हाथ में बैग और पिस्टल लेकर वहां से भागने लगा। इसके बाद पुलिस ने उसे सरेंडर करने के लिए कई बार चेतावनी दी। लेकिन वह नहीं रुका और पुलिस टीम पर गोली चला दी। इस दौरान बदमाश द्वारा चलाई गई गोली कांस्टेबल रामबीर और एएसआई लव कुमार की बुलेट प्रूफ जैकेट पर जा लगी। जैकेट की वजह से उनकी जान बच गई। जवाब में इंस्पेक्टर पीसी यादव ने दो राउंड हवाई फायर किए। इसके बाद कांस्टेबल रामबीर ने बदमाश के पैर में गोली मार दी, जिससे वह वहीं गिर गया। पुलिस को इसके पास से तीन लाख रुपए कैश, .32 बोर की पिस्टल और एक मैगजीन भी मिली।

इन वारदातों को भी दे चुके हैं अंजाम

पिछले साल गैंग ने भलस्वा डेयरी में एटीएम कैश वैन लूटने की कोशिश की। विरोध करने पर गनमैन और कैशियर को गोली मार जख्मी कर दिया था।

गत् वर्ष बेगमपुर में कैश वैन के कैशियर से 19 लाख लूटे।

कुंडली हरियाणा में पैट्रोल पंप मैनेजर को गोली मारकर 35 लाख की लूट की।

बाकी 4 को पहले दबोच चुकी थी पुलिस, 3 नरेला के

मुखबिर तंत्र और टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस को हत्या और लूट के इस केस में शामिल अपराधियों के बारे में जानकारी मिली। पता चला कि मंगलवार शाम इस गैंग के सदस्य शाहबाद रोड, सेक्टर 26 रोहिणी आने वाले हैं। यह इनपुट मिलने के बाद पुलिस टीम ने गंदा नाले के पास से महाबीर, दीपक और गुरुचरण को दबोच लिया। इन सभी के पास से पिस्टल मिलीं। इनसे हुई पूछताछ में गैंग के अन्य सदस्यों भारत भूषण उर्फ टोनी, जीतू व विकास के नाम सामने आए। ये तीनों नरेला के रहने वाले हैं। पुलिस ने दीपक के पास से तीन लाख रुपये भी बरामद किए। इसके बाद देर रात गैंग के चौथे सदस्य विकास को पॉकेट 5 ए नरेला स्थित उसके घर से दबोचा। इसके पास से .32 बोर की पिस्टल मिली जो उक्त वारदात में इस्तेमाल हुई थी। साथ ही 1.9 लाख कैश भी बरामद हुआ। देर रात पुलिस ने भारत भूषण व अन्य सदस्यों की तलाश में संभावित जगहों पर दबिश डाली लेकिन वे अपने ठिकानों पर नहीं मिले।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×