--Advertisement--

इंदौर फिर नंबर 1, एनडीएमसी को 3 लाख से कम आबादी वाले शहरों में पहला स्थान

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर एक बार फिर देश का सबसे साफ-सुथरा शहर बनकर उभरा है। इंदौर ने लगातार दूसरे साल यह...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 02:05 AM IST
इंदौर फिर नंबर 1, एनडीएमसी को 3 लाख से कम आबादी वाले शहरों में पहला स्थान
मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर एक बार फिर देश का सबसे साफ-सुथरा शहर बनकर उभरा है। इंदौर ने लगातार दूसरे साल यह रुतबा हासिल किया है। भोपाल दूसरे और चंडीगढ़ तीसरे नंबर पर है। स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 में झारखंड को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाला राज्य चुना गया। 1 से 3 लाख तक आबादी वाले शहरों में नई दिल्ली नगर निगम(एनडीएमसी) को पहला स्थान मिला है। वहीं दिल्ली कैंटोंमेंट बोर्ड को सबसे स्वच्छ कैंटोेमेंट बोर्ड का खिताब मिला है। आवास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार शाम स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के नतीजे घोषित किए।

देश के सबसे साफ-सुथरे शहर

1

2


10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहर

सबसे साफ-सुथरा| विजयवाड़ा
3-10 लाख की आबादी वाले शहर


3



राजधानियों में ग्रेटर मुंबई ने मारी बाजी

अलग-अलग मामलों में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की राजधानियों का भी आकलन किया गया है। इसमें महाराष्ट्र की राजधानी ग्रेटर मुंंबई देश की सबसे साफ-सुथरी राजधानी बनकर उभरी है। सिटीजन फीडबैक में रांची अव्वल रही है। खराब प्रदर्शन करने वाले शहरों के नाम पुरस्कार वितरण के दिन जारी होंगे। सर्वेक्षण-2018 के तहत देश के सभी 4,200 शहरों का आकलन किया गया है।

X
इंदौर फिर नंबर 1, एनडीएमसी को 3 लाख से कम आबादी वाले शहरों में पहला स्थान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..