Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» 36 दिनों तक दिल्ली में नहीं लिया जाएगा कमर्शियल वाहनों से टैक्स, लग रहे हैं आरएफआईडी सिस्टम, फिर कोई वाहन बिना टैक्स नहीं जा सकेगा

36 दिनों तक दिल्ली में नहीं लिया जाएगा कमर्शियल वाहनों से टैक्स, लग रहे हैं आरएफआईडी सिस्टम, फिर कोई वाहन बिना टैक्स नहीं जा सकेगा

साउथ एमसीडी 36 दिनों तक किसी भी कमर्शियल वाहन से टोल टैक्स नहीं वसूलेगी। एमसीडी ने यह फैसला वाहनों को रियायत देने के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 11, 2018, 02:11 AM IST

36 दिनों तक दिल्ली में नहीं लिया जाएगा कमर्शियल वाहनों से टैक्स, लग रहे हैं आरएफआईडी सिस्टम, फिर कोई वाहन बिना टैक्स नहीं जा सकेगा
साउथ एमसीडी 36 दिनों तक किसी भी कमर्शियल वाहन से टोल टैक्स नहीं वसूलेगी। एमसीडी ने यह फैसला वाहनों को रियायत देने के लिए नहीं बल्कि टोल को अपडेट करने के लिए लिया है। स्थायी समिति की अध्यक्षा शिखा राय ने बताया कि टोल पर रेडियो फ्रिक्वेंसी डिवाइस सिस्टम (आरएफआईडी) लगाया जा रहा है। इस कारण दिल्ली में प्रवेश करने वाले कमर्शियल वाहनों से 13 सितंबर 2018 तक टैक्स नहीं वसूला जाएगा। मगर इस दौरान वाहन चालकों को ईसीसी (एनवायर्नमेंट कंपनशेड चार्जेस) देना होगा। राय ने कहा कि दिल्ली के सभी 13 टोल प्लाजा पर आरएफआईडी सिस्टम लागू होने के बाद सभी टोल बूथों पर भीड़-भाड़ व अव्यवस्था की स्थिति समाप्त हो जाएगी।

साउथ एमसीडी : सुप्रीम कोर्ट ने दिए थे टोल आधुनिकीकरण के आदेश

कोर्ट ने कहा था कि टोल टैक्स वसूली करण प्रक्रिया का आधुनिकीकरण किया जाए और सभी टोल प्लाजा पर आरएफआईडी सिस्टम लगाए जाए। उन्होंने कहा कि टोल नाकों से अक्सर शिकायतें मिलती रहती हैं कि वाहन चालक टोल टैक्स नहीं देते। इस नई तकनीक से टोल टैक्स में बढ़ोतरी होगी तथा वाहन चालक भी टोल टैक्स देने से नहीं बच पाएंगे।

13 टोल प्लाजा पर कमर्शियल वाहनों से वसूलते हैं टैक्स

119 करोड़ का होगा कुल नुकसान

66 हजार वाहन दिल्ली में प्रवेश करते है।

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में कमी आएगी

राजधानी दिल्ली में इन्हीं 13 टोल प्लाजा से बाहर से आने वाले 85 प्रतिशत वाहन प्रवेश करते हैं। इस कदम से दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में कमी आएगी। यह सिस्टम लागू हो जाने के बाद वाहन मालिकों को आरएफआईडी कार्ड दिए जाएंगे और इसके बाद उससे ही नियमित टैक्स वसूला जाएगा।

सिस्टम लगने के बाद कोई भी वाहन बिना टैक्स नहीं जा सकेगा।

पहचान हो सकेगी कि कौन सा वाहन टोल टैक्स देगा

वाहनों को टैग करते समय सारी जानकारी ले ली जाएगी, जिससे पहचान हो सकेगी कि कौन सा वाहन टोल टैक्स देगा और कौन सा ईसीसी। आरएफआईडी सिस्टम टोल टैक्स वसूली करण प्रक्रिया में बड़ा बदलाव लाएगा, जिससे टोल प्लाजा पर जाम कम होगा। यह पहल सुप्रीम कोर्ट के 22 अगस्त 2016 के निर्देशानुसार की जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×