Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» द ग्रेट पॉलिटिकल मूवी दिल्ली सरकार-पार्ट 2 To Be Continued...|क्लाइमेक्स पर सस्पेंस

द ग्रेट पॉलिटिकल मूवी दिल्ली सरकार-पार्ट 2 To be continued...|क्लाइमेक्स पर सस्पेंस

दिल्ली में द ग्रेट पॉलिटिकल मूवी दिल्ली सरकार पार्ट-2 पिछले 56 घंटे से लगातार चल रही है। सोमवार शाम 5.30 बजे राजनिवास...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 03:05 AM IST

द ग्रेट पॉलिटिकल मूवी दिल्ली सरकार-पार्ट 2 To be continued...|क्लाइमेक्स पर सस्पेंस
दिल्ली में द ग्रेट पॉलिटिकल मूवी दिल्ली सरकार पार्ट-2 पिछले 56 घंटे से लगातार चल रही है। सोमवार शाम 5.30 बजे राजनिवास में रिलीज हुई इस पॉलिटिकल मूवी के क्लाइमेक्स को लेकर अब भी सस्पेंस बना हुआ है। बुधवार रात 2 बजे खबर लिखे जाने तक राजनिवास में टीम केजरीवाल और सीएम हाउस में टीम विपक्ष का धरना जारी था। इस बीच बुधवार को दिनभर कहानी में ट्विस्ट एंड टर्न आते रहे।

56 घंटे से एसी में धरना दे रहे चार मंत्रियों के समर्थन के लिए बसों में लाए लोग धूल-गर्मी के बीच 40 मिनट भी नहीं टिके

...नेता भी भाषणबाजी करके घर लौट गए

भास्कर न्यूज | नई दिल्ली

सीएम सहित जहां तीन मंत्री बुधवार को तीसरे दिन भी सोफे पर एसी में धरने पर बैठे रहे, वहीं विपक्ष के छह नेता भी सीएम ऑफिस के सोफे पर एसी में धरने पर बैठ गए। आप विधायक पार्टी के निर्देश पर भीड़ तो ले आए लेकिन धूल भरी गर्मी में लोग 40 मिनट भी नहीं टिके। 35 मिनट की रैली खत्म होते ही लोग लौटने लगे। नेता भी कुछ देर भाषणबाजी करके चले गए। संजय सिंह ने सीएम हाउस से रैली शुरू होने से पहले कहा था कि हमें पुलिस जहां रोकेगी, रुक जाएंगे। कोई विवाद नहीं करेंगे, वहीं धरना देने बैठ जाएंगे। रैली सवा पांच बजे शुरू हुई और 5:50 बजे रोक दी गई। रैली रुकते ही भीड़ लौटने लगी।

रैली में विवादित पोस्टर, आप वाले बोले- भाजपा की साजिश

रैली में विवादित पोस्टर पर आप ने भाजपा पर साजिश का आरोप लगाया। रैली में कुछ लोगों के हाथ में अटल बिहारी वाजपेयी पर टिप्पणी लिखे पोस्टर थे। इन पर लिखा था कि ‘दिल्ली मांगे ‘अटल’ से पहले ‘अनिल’ की छुट्टी’। निवेदक सभी दिल्लीवासी। इस पर संजय सिंह ने कहा, कुछ लोगों द्वारा अटलजी पर टिप्पणी के पोस्टर लाने की जानकारी मिली है। हमारा इनसे कोई लेना-देना नहीं, पार्टी इसका समर्थन नहीं करती। ये लोग भाजपा के हो सकते हैं।

5 प्वाइंटर्स में जानें... कहानी में अब तक के ट्विस्ट एंड टर्न

1. 11 जून... शाम 6 बजे राजनिवास के सोफे पर मुख्यमंत्री केजरीवाल समेत चार मंत्रियों का धरना शुरू हुआ।

2. 12 जून...ट्विटर पर होते रहे हमले। सुबह 11 बजे सत्येंद्र जैन ने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू की।

3. 13 जून... दोपहर 12 बजे 3 विपक्षी नेता और एक बागी विधायक सीएम ऑफिस के सोफे पर धरने पर बैठे।

4. 13 जून... सत्येंद्र जैन के बाद मनीष सिसोदिया ने भी अनिश्चतकालीन भूख हड़ताल का ऐलान कर दिया।

5. 13 जून...यशवंत सिन्हा, ममता बनर्जी, आरएलडी नेता जयंत चौधरी व आरजेडी नेता मनोज झा समर्थन में आए।

फ्लॉप शो... रैली निकाली, प्लान था- जहां रोकेंगे वहां धरना देंगे, पर लोग रुके ही नहीं

संजय सिंह रैली में बोले...

अगर समाधान नहीं हुआ तो ईंट से ईंट बजा देंगे

3:45 बजे अपराह्न सीएम हाउस के सामने लगे टेंट के नीचे 100-150 कार्यकर्ता मौजूद थे।

4:00 बजे शाम रैली निकालने का समय तय किया गया था और अधिकतर विधायक गायब थे।

4: 20 बजे के बाद विधायक बसों में लोगों को लेकर पहुंचने लगे।

5: 15 बजे के बाद विधायक बसों में लोगों को लेकर पहुंचने लगे।

5.50 बजे राजनिवास की तरफ मुड़ने से पहले ही रोक लिया गया। 35 मिनट बाद ही लोग जाने लगे।

आप के नायक की सपोर्टिंग कास्ट भी पीछे नहीं

शाम करीब 5.15 बजे रैली सीएम हाउस से राजनिवास के लिए निकली। सबसे आगे लाउड स्पीकर लगा वाहन था।

आप का दावा: पांच से ज्यादा पार्टियां समर्थन में

जब तक एलजी दिल्ली नहीं छोड़ते हमारी लड़ाई जारी रहेगी। जब तक दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं मिल जाता। तब तक हमारी लड़ाई जारी रहेगी। -आतिशी मर्लिना, पूर्वी दिल्ली लोकसभा प्रभारी

दिल्ली का संकट भाजपा द्वारा प्रायोजित है। आप पार्टी ने नेताओं पर फर्जी केस लगा दीजिए। हमें कोई दिक्कत नहीं, लेकिन जनता के काम नहीं होने देने से हमें दिक्कत है।” -दिलीप पांडे, पूर्वी दिल्ली लोकसभा प्रभारी

कांग्रेस को लड़ाई की जरूरत नहीं पड़ी। क्योंकि उनको काम नहीं दलाली करनी थी। इसलिए जनता ने उनको शून्य पर पहुंचा दिया। हमें जनता के लिए लड़ाई लड़ना है। -पंकज गुप्ता, चांदनी चौक लोकसभा प्रभारी

आप नेता संजय सिंह ने कहा, दूसरे राजनीति दलों से भी इस पर समर्थन मिलना शुरू हो गया है। सीएम, सीपीआई, एसपी, आरजेडी, जेडीएस के नेताओं से बात हुई है। सबने समर्थन का भरोसा दिया है।

अगली स्क्रिप्ट भी तैयार... आज राजघाट पर कैंडल मार्च

संजय सिंह ने कहा, अगर मांगें नहीं मानीं, तो गुरुवार को राजघाट पर आप के मंत्री, विधायक व अन्य पार्टियों के नेता कैंडल मार्च करेंगे। फिर भी न माने तो रविवार को पीएमओ का घेराव करेंगे।

स्पेशल अपीयरेंस...

यशवंत सिन्हा भी मंच पर पहुंचे, भाजपा काे घेरा

केजरीवाल के धरने का समर्थन देने देश के पूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा बुधवार को सीएम हाउस के बाहर बने मंच पर पहुंचे। सिंह ने कहा कि मैंने अटल जी के साथ काम किया है। अच्छा है कि इन छुटभैयों के साथ काम नहीं कर रहा। भाजपा स्कूटर पार्टी बन गई है। आज अटल जी प्रधानमंत्री मंत्री होते तो तुरंत गृह मंत्री को मामले निपटाने के लिए बोलते। यहां तो 67 विधायकों का मुख्यमंत्री इंसाफ मांग रहा है। उन्होंने कहा कि इस संघर्ष को जारी रखना है।

सरकार

सोफे की सियासत

इधर 4 मंत्री, उधर 5 नेता

दोनों की 3-3 मांगें

सरकार...

1.
सीएम समेत 4 मंत्री राजनिवास के प्रतीक्षालय में लाल सोफे पर बैठे हैं।

2. सोशल मीडिया पर लगातार ट्वीट, वीडियो और फोटो शेयर कर रहे हैं।

3. जिद : एलजी साहब मांगें मानो, नहीं तो धरना जारी रहेगा।

4. तीन मांगें

ऑफिसर्स की स्ट्राइक खत्म कराएं। यदि जरूरी हो तो एस्मा लगाएं।

काम रोकने वालों पर सख्ती हो।

राशन की होम डिलीवरी स्कीम को एलजी साहब तुरंत मंजूरी दें।

विपक्ष...

1.
सीएम ऑफिस के लाल सोफे पर नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता, सांसद प्रवेश वर्मा, भाजपा विधायक जगदीश प्रधान, मनजिंदर सिंह सिरसा, आप बागी विधायक कपिल मिश्रा धरने पर बैठे हैं।

2. ये भी सोशल मीडिया पर एक्टिव।

3. जिद : जब तक सीएम काम पर नहीं लौटेंगे, तब तक धरना जारी रहेगा।

4. तीन मांगें

केजरीवाल नौटंकी बंद करें।

हड़ताल छोड़कर काम पर लौटें।

दिल्ली की जनता को पानी दें।

विपक्ष

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×