Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की

जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की

शेखर घोष | नई दिल्ली g_shekhar@dbcorp.in डीडीए ने साल 1974 में विवेक विहार में गुरुद्वारा के लिए 500 वर्ग गज जमीन अलॉट की। इसके बाद...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:05 AM IST

  • जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की
    +3और स्लाइड देखें
    शेखर घोष | नई दिल्ली g_shekhar@dbcorp.in

    डीडीए ने साल 1974 में विवेक विहार में गुरुद्वारा के लिए 500 वर्ग गज जमीन अलॉट की। इसके बाद 1982 में विवेक विहार की गुरुद्वारा सिंह सभा ने इसके पास की खाली पड़ी 600 वर्ग गज जमीन पर यह कहकर कब्जा कर लिया कि इसका इस्तेमाल लंगर के लिए करेंगे। फिर सभा ने 1988 में इस जमीन पर दशमेश पब्लिक स्कूल एजुकेशन सोसायटी बना ली। साथ ही इसमें दो-तीन कमरे बना दिए।

    1993 में बलबीर सिंह दशमेश पब्लिक स्कूल एजुकेशन सोसायटी के चेयरमैन बने। इन्होंने यहां 10 कमरे बनाकर स्कूल शुरू कर दिया। स्थानीय लोगों ने डीडीए और एमसीडी से इसकी शिकायत भी की। मगर कोई कार्रवाई नहीं की गई। बल्कि डीडीए ने जून 2004 में पूर्वी दिल्ली के वसुंधरा एंक्लेव में 200 करोड़ रुपए से ज्यादा कीमत की दो एकड़ जमीन सिर्फ दो करोड़ रुपए में इस सोसायटी को आवंटित कर दी। 2006 में पूर्व विधायक जितेंद्र सिंह शंटी ने डीडीए में आरटीआई लगाकर इस मामले की जानकारी मांगी और शिकायत की। इस पर भी डीडीए ने न तो कोई जवाब दिया, न ही कोई कार्रवाई की। इसी बीच जनवरी 2010 में बलबीर सिंह ने गुरुद्वारा के पीछे खाली पड़ी डीडीए की 1100 वर्ग गज पर भी कब्जा कर लिया। 2016 में शंटी ने एलजी और मनीष सिसोदिया से शिकायत की।

    ऐसे समझें... .किस हद तक की जा रही मनमानी

    बलबीर सिंह ने काेर्ट में हलफनामा भी दिया था

    बलबीर सिंह ने हाईकोर्ट में हलफनामा भी दिया है। इसके मुताबिक गुरुद्वारा सिंह सभा, विवेक विहार ने स्कूल चलाने के लिए उन्हें 600 वर्ग गज जमीन दान में दी है। जबकि गुरुद्वारा सिंह सभा के महासचिव महेंद्र सिंह ने इस बात से साफ इनकार किया है। उनका कहना है कि गुरुद्वारा के पास 500 वर्ग जमीन की रजिस्ट्री है, जिस पर गुरुद्वारा बना है। ऐसे में 600 वर्ग गज जमीन दशमेश पब्लिक स्कूल को दान में देने का मतलब ही पैदा नहीं होता।

    खुद अपने स्कूल को सरकारी जमीन इस्तेमाल करने का आॅर्डर दे दिया

    बलबीर सिंह विवेक विहार रेजीडेंट्स एसोसिएशन (विवेक विहार नागरिक समिति) के प्रेजीडेंट हैं। उन्होंने विवेक विहार दशमेश पब्लिक स्कूल के पीछे खाली पड़ी सरकारी जमीन का स्कूल के बच्चों के लिए खेल के मैदान के रूप में 9 जनवरी 2010 में प्रयोग करने का आदेश जारी कर दिया। जबकि बलवीर सिंह खुद ही दशमेश एजुकेशन सोसाइटी के चेयरमैन भी हैं। बलबीर सिंह ने संवाददाता को खुद बताया कि विवेक विहार आरडब्ल्यूए की तरफ से मैंने स्कूल के पास डीडीए के खाली पड़े पांच प्लॉट में बच्चों को खेलने की परमिशन दी है।

    बलबीर सिंह-600 वर्ग गज जमीन गुरुद्वारा सिंह सभा ने दान में दी

    यही है दशमेश पब्लिक स्कूल, जो 600 वर्ग गज जमीन में बना हुआ है।

    भास्कर के पास हैं ये सबूत...

    शिकायतकर्ता जितेंद्र सिंह शंटी का उपराज्यपाल से लेकर सभी अधिकारियों को लिखा गया पत्र

    दशमेश पब्लिक स्कूल के चेयरमैन बलवीर सिंह द्वारा हाईकोर्ट में दिया गया हलफनामा

    गुरुद्वारा सिंह सभा, विवेक विहार द्वारा दशमेश पब्लिक स्कूल को जमीन न दिए जाने का पत्र

    बलवीर द्वारा खुद ही अपने स्कूल को जमीन देने के आदेश वाला पत्र

    शिकायतकर्ता द्वारा हाईकोर्ट में लगाए गए आरोपों की कॉपी

    गुरुद्वारा सिंह सभा जल्द स्कूल पर कब्जा लेगी और बलबीर सिंह पर एफआईआर कराएगी

    विवेक विहार स्थित गुरुद्वारे के बाहर खड़ी दशमेश पब्लिक स्कूल की बसें।

    दिल्ली सरकार ने कोर्ट में भी कहा था- 90 दिन में कार्रवाई करेंगे, पर कुछ नहीं किया

    दिल्ली सरकार ने कहा, 45 दिन में मामले की जांच की जाएगी। मगर जनवरी 2017 तक जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो शंटी ने फिर डीडीए और दिल्ली के शिक्षा विभाग के खिलाफ हाईकोर्ट चले गए। शिक्षा विभाग ने कोर्ट में हलफनामा देकर कहा कि हम 90 दिन में कार्रवाई कर देंगे। पर डीडीए ने कोई जवाब नहीं दिया। 150 दिन बाद भी जब दिल्ली सरकार ने कुछ नहीं किया तो शंटी ने डीडीए और सरकार के खिलाफ कोर्ट की अवमानना का केस दर्ज करा दिया। 26 अप्रैल 2018 को शंटी ने एलजी और डीडीए को पत्र लिखकर कहा कि 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जे में एफआईआर हो।

    गुरुद्वारा सिंह सभा, विवेक विहार के प्रधान अवतार सिंह ने बताया कि सभा जल्द एक बैठक बुलाकर स्कूल से कब्जा लेगी और गुरुद्वारे के जमीन पर कब्जा करने के विरुद्ध बलवीर पर एफआईआर करवाएगी।

    गुरुद्वारा सभा-हमारे पास कुल 500 वर्ग गज ही है, तो 600 कैसे दे देंगे?

    जानिए...ये कह रहे हैं आरोपी, जिम्मेदार और शिकायतकर्ता

    शिकायतकर्ता :बलबीर ने करोड़ों की जमीन कब्जाई

    बलबीर सिंह दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी का सदस्य है। अपने रसूख का इस्तेमाल करके उसने डीडीए की करोड़ों की जमीन कब्जा रखी है। मैं इस सरकारी जमीन को अतिक्रमणमुक्त करवाने और दशमेश पब्लिक स्कूल को आवंटित जमीन रद्द करवाने के लिए सुप्रीम कोर्ट जाऊंगा। - जितेन्द्र सिंह शंटी, पूर्व भाजपा विधायक

    जिम्मेदार : ये मामला मेरे कार्यकाल का नहीं : डीडीए अफसर

    अतिक्रमण से लैंड आवंटन का कोई संबंध नहीं है। इस मामले में संबंधित विभाग कार्रवाई करेगा। यह मेरे कार्यकाल का मामला नहीं है। मगर मेरे संज्ञान में इस तरह की कोई शिकायत आती है और अगर नियमों की अवहेलना पाई जाती है तो दोषियों पर उचित कार्रवाई की जाएगी। - रवीदीप चाहर, कमिश्नर, लैंड, डीडीए

    गुरुद्वारा सिंह सभा

    बलबीर को हमने कोई जमीन दान में नहीं दी है

    शिकायत मिली है कि बलबीर ने हाईकोर्ट में हलफनामा दिया है कि गुरुद्वारा सिंह सभा ने स्कूल के लिए जमीन दान में दी। यह जानकारी बिल्कुल गलत है। सभी सदस्यों की कमेटी की बैठक बुलाएंगे और बलबीर पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। - महेन्दर सिंह, महासचिव, गुरुद्वारा सभा

    आरोपी :कब्जा नहीं किया है, गुरुद्वारा सभा ने दान दी

    सारी शिकायतें मेरा भाई कर रहा है। स्कूल ने किसी जमीन का अतिक्रमण नहीं किया। गुरुद्वारा सभा ने खुद पत्र लिखकर स्कूल के लिए 600 गज जमीन दान में दी है। इस मामले में किसी भी तरह के नियमों की अवहेलना नहीं की गई है। - बलबीर सिंह, चेयरमैन दशमेश पब्लिक स्कूल एजुकेशन सोसायटी

    गुरुद्वारा कमेटी

    जमीन कब्जा करने वाले पर कानूनी कार्रवाई हो

    कोई धर्म सरकारी जमीन पर कब्जे की अनुमति नहीं देती है। जमीन पर कब्जा करने वालों पर कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। चाहे वह दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी का सदस्य ही क्यों न हो। - मनजीत सिंह जीके, अध्यक्ष दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी

  • जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की
    +3और स्लाइड देखें
  • जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की
    +3और स्लाइड देखें
  • जिसने डीडीए की 1700 वर्ग गज जमीन पर कब्जा कर रखा है, डीडीए ने उसी को 200 करोड़ की जमीन 2 करोड़ में अलॉट की
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×