Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» डॉक्टर ने कहा- भाई ने धमकी दी थी कि तुम्हारा इंतजाम हो गया है, जल्दी काम होगा

डॉक्टर ने कहा- भाई ने धमकी दी थी कि तुम्हारा इंतजाम हो गया है, जल्दी काम होगा

फतेहपुर बेरी इलाके में 71 वर्षीय डॉक्टर हंस नागर पर हुअा जानलेवा हमला गुड़गांव की 100 करोड़ की प्रॉपर्टी विवाद के पीछे...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:05 AM IST

  • डॉक्टर ने कहा- भाई ने धमकी दी थी कि तुम्हारा इंतजाम हो गया है, जल्दी काम होगा
    +2और स्लाइड देखें
    फतेहपुर बेरी इलाके में 71 वर्षीय डॉक्टर हंस नागर पर हुअा जानलेवा हमला गुड़गांव की 100 करोड़ की प्रॉपर्टी विवाद के पीछे हुआ था। यह प्रॉपर्टी डॉक्टर ने नब्बे साल के पट्टे पर ले रखी है, जिस पर उनका कब्जा है। डॉक्टर हंस नागर फार्म बेहरामपुर के नाम से इस प्रॉपर्टी को करीब 7-8 महीने पहले डॉ. हंस नागर के भाई जॉन नागर ने चांदन हौला गांव निवासी नासिर खान और सैनिक फार्म हाउस निवासी दिनेश जाजू के साथ मिलकर डाइवर्स बिल्डकोन प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी को 9 करोड़ रुपये में बेच दिया था, जबकि जिसकी वर्तमान में मार्केट की कीमत सौ करोड़ रुपये है। घायल डॉक्टर के मुताबिक शनिवार सुबह वह गदईपुर स्थित फार्म हाउस में बाइक पर घूम रहे थे, जहां भाई रोनाल्डो उनकी और फार्म हाउस की वीडियोग्राफी करने लगा।

    इस बात का जब उन्होंने विरोध जाहिर किया तो वह बदसलूकी पर उतर आया। बात इतनी बिगड़ गई कि उसने यह तक कह दिया हमने तुम्हारा इंतजाम कर लिया है, जल्द काम पूरा हो जाएगा। उससे दो-तीन दिन पहले वह कीर्ति नगर स्थित बैंक्वेट हॉल में एक शादी में शामिल होने के लिए गए थे। उनके साथ करन चौधरी भी था। यहां पर नासिर कुछ युवकों के साथ पहुंचा हुआ था। इधर, पार्टी के दौरान नासिर वीडियो बनाने लगा। इस बात पर उन्होंने विरोध जाहिर किया, जिसके बाद मामला खत्म हो गया।

    फार्म हाउस

    डॉक्टर को पहले भी गुड़गांव वाली प्रॉपर्टी छोड़ने के लिए मिली थी धमकी

    रविवार को घायल डॉक्टर नागर द्वारा पुलिस को दिए गए बयान से इस बात का खुलासा हुआ है। उन्होंने पुलिस को बताया कि छह एकड़ में फैली इस जमीन की डील का पता चलने के बाद उन्होंने मामले की शिकायत बादशाह पुर पुलिस स्टेशन गुड़गांव को दी। इस केस की जांच के दौरान प्राइवेट कंपनी की ओर से इंद्रजीत और गाेयल नामक लोगों के नाम सामने आए। इन दोनों ने उन्हें थाने के बाहर गुड़गांव वाली प्रॉपर्टी का कब्जा छोड़ देने की धमकी दी थी। इसमें उसके भाई भी शामिल थे। नासिर खान और दिनेश जाजू के संग मिलकर उसके भाई भी कई बार धमकियां दे चुके थे। डेढ़ महीने पहले दिनेश जाजू और नासिर खान ने उन्हें मीटिंग के लिए हौजखास स्थित एक कैफे बुलाया था। लेकिन यह मीटिंग नहीं हो सकी, क्योंकि वहां उसका भाई रोनाल्डो नहीं आया था।

    शनिवार रात डॉक्टर पर किया गया था हमला, 25 राउंड गोलियां चली थीं

    शनिवार रात साढ़े ग्यारह बजे डॉक्टर नागर अपनी मेड के साथ क्विड कार से गदईपुर पहुंचे। यहां उन्होंने मेड को गेट के बाहर उतार दिया। मेड सर्वेट क्वार्टर में रहती है। कार की रफ्तार मंदी थी, तभी कुछ आगे गाड़ी चलने पर हमलावरों ने उन पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। इनमें एक आदमी वो था, जो इंद्रजीत शर्मा और गोयल के साथ आया था। जवाब में डॉक्टर ने भी अपनी लाइसेंसी पिस्टल से गोलियां चलाईं। बुजुर्ग द्वारा दिखाई गई बहादुरी के बाद हमलावर मौके से भाग निकले। घटना में जख्मी होने के बाद उन्होंने सौ नंबर पर पुलिस को कॉल की और वह जान बचाने के लिए एक कोने में छिप गए। पीछे से आई उनकी बेटी इमिक नागर ने खून से लथपथ हालत में पिता को देख वसंतकुंज स्थित फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया।

    क्षतिग्रस्त कार

    पुलिस घायल के भाइयों से पूछताछ कर रही है

    पीड़ित का कहना है इस वारदात की साजिश में उसके दो भाइयों के साथ नासिर खान, दिनेश जाजू, इंद्रजीत व गोयल शामिल हैं। डॉक्टर की हालत में अब सुधार है। उनके बयान पर ही हत्या की कोशिश, साजिश व आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस की जांच में पता चला है कि 139 गदईपुर फार्म हाउस की प्राॅपर्टी को लेकर भी उनका दोनों भाइयों के साथ विवाद चल रहा है। इस केस में पुलिस घायल के दोनों भाइयों समेत कुछ लोगों से मामले में पूछताछ कर रही है।

  • डॉक्टर ने कहा- भाई ने धमकी दी थी कि तुम्हारा इंतजाम हो गया है, जल्दी काम होगा
    +2और स्लाइड देखें
  • डॉक्टर ने कहा- भाई ने धमकी दी थी कि तुम्हारा इंतजाम हो गया है, जल्दी काम होगा
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×