--Advertisement--

शव रजाई में छिपा फेंका, 15 दिन बाद मिला कंकाल, लगा कि लावारिस है

Dainik Bhaskar

Jun 11, 2018, 03:05 AM IST

भास्कर न्यूज | नई दिल्ली

पुलिस ने 8 मई को द्वारका की झाड़ियों में रजाई में लिपटे मिले जिस कंकाल को लावारिस समझ 15 दिन बाद उसका अंतिम संस्कार किया था, वह कंकाल करन (30) का था। इसका खुलासा तब हुआ, जब परिजनों ने उसके गायब होने की शिकायत दी। परिजनों ने कंकाल के पास से मिले कपड़े और ट्रू फ्रेंड वाले बैंड देख पहचान की। जांच के बाद पुलिस ने शनिवार को आरोपी पति सुरेंद्र (32), प|ी ममता (25) और जीजा चन्नू पासवान (39) को अरेस्ट किया, तब इस मर्डर की मिस्ट्री सामने आई। पनीर बेचने वाला करन साध नगर में आरोपी दंपती के साथ ही रहता था। ममता से उसके अवैध संबंध थे। पति को इसका पता चला तो दंपती में लड़ाई-झगड़े होने लगे। दंपती ने अपनी खुशहाल जिंदगी के लिए जीजा के साथ मिलकर 22 अप्रैल को घर में ही उसे गला दबाकर मार डाला। बच्चों के सो जाने पर आरोपियों ने रात में शव रजाई में छिपाकर झाड़ियों में फेंक दिया और आरोपी दंपती बागडौला में रहने लगा।


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..