• Home
  • Union Territory News
  • Delhi News
  • News
  • नशा मुक्ति केंद्र के केयरटेकर ने नशे में धुत युवक की डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी, आरोपी सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर लेकर चंपत
--Advertisement--

नशा मुक्ति केंद्र के केयरटेकर ने नशे में धुत युवक की डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी, आरोपी सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर लेकर चंपत

तुगलकाबाद गली नंबर 15 में नशा मुक्ति केंद्र के केयरटेकर ने एक शख्स की डंडे से पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी। घटना...

Danik Bhaskar | Jun 13, 2018, 03:05 AM IST
तुगलकाबाद गली नंबर 15 में नशा मुक्ति केंद्र के केयरटेकर ने एक शख्स की डंडे से पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी। घटना के वक्त उसने मशीन से इस युवक के सिर और भौंह के बाल भी काट डाले। नशे में धुत इस आदमी ने मल त्याग कर दिया, जिसके बाद तैश में आकर यह वारदात की गई। मंगलवार सुबह मौत हो जाने का पता चलने पर आरोपी केंद्र में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर सिस्टम लेकर चंपत हो गया। मैनेजर ने घटना की जानकारी दी, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स भिजवाया। मृतक की पहचान अमित विधूड़ी के तौर पर हुई। बीती रात ही उसे कर्मचारी नशे में लाए थे।

नशे में युवक का टॉयलेट निकल गया था, जिससे तैश में आकर की गई वारदात

चश्मदीद ने बताया- केयरटेकर नशे में था, बोला-पहले भी इसने बहुत परेशान किया, आज सबक सिखा देता हूं

पुलिस को दिए बयान में सदर बाजार गुडगांव निवासी हेमंत ने बताया कि वह शराब की लत छुड़वाने के लिए पिछले महीने से नशा मुक्ति केंद्र जीवन फाउंडेशन में भर्ती है। सोमवार रात इस सेंटर के चार कर्मचारी अमित विधूड़ी नाम के आदमी को नशे की हालत में लेकर आए थे। अमित पहले भी यहां भर्ती था, जो मौका देखकर भाग गया था। अमित को फर्श पर छोड़ दिया गया। आधे घंटे बाद केंद्र का केयरटेकर सुमित अरोड़ा उर्फ रिंकू दो लोगों के साथ आया। वह नशे की हालत में दिख रहा था। उसने यहां केंद्र में बैठकर शराब पी। देर रात फर्श पर लेटे अमित ने मल त्याग कर दिया। यह देख सुमित को गुस्सा आ गया। वह बोला इसने पहले भी बहुत परेशान किया था, आज इसे सबक सिखा देता हूं। उसने बांस के डंडे से उसे बुरी तरह मारना-पीटना शुरू कर दिया। यह सिलसिला काफी देर तक चलता रहा।

मशीन से युवक के सिर व भौंहों के बाल भी काट दिए, और तब-तक पीटाई की जब तक थक नहीं गया

केयरटेकर ने इस बीच मशीन से अमित के सिर और भौहों के बाल भी काट दिए। थक-हारकर वह शांत हो गया। सुबह पांच बजे हेमंत ने देखा कि अमित की सांसें नहीं चल रही थीं। यह बात उसने फौरन सुमित को बताई। अमित की मौत हो जाने पर सुमित ने उन्हें इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताने की धमकी दी और वह केंद्र में लगे सीसीटीवी कैमरे के सिस्टम को लेकर वहां से चला गया। कुछ देर बाद केंद्र का मैनेजर ओम प्रकाश आया। उसे पूरी बात बताई गई, जिसने सुबह साढ़े छह बजे सौ नंबर पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। मृतक अमित विधूड़ी (29) परिवार के साथ मदनपुर खादर इलाके में रहता था। डीसीपी साउथ ईस्ट चिन्मय बिश्वाल ने बताया गोविंदपुरी थाने में घटना की बाबत हत्या का मुकदमा दर्ज कर फरार आरोपी की तलाश की जा रही है।