• Home
  • Union Territory News
  • Delhi News
  • News
  • लड़की की शादी से एक दिन पहले ही घर से 15 मिनट में 2.5 लाख कैश समेत लाखों चोरी
--Advertisement--

लड़की की शादी से एक दिन पहले ही घर से 15 मिनट में 2.5 लाख कैश समेत लाखों चोरी

अमर कॉलोनी इलाके में शादी वाले घर में बदमाशों ने सेंध लगा दी। पूरा परिवार शगुन देने के लिए लड़की के ससुराल गया था,...

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 03:15 AM IST
अमर कॉलोनी इलाके में शादी वाले घर में बदमाशों ने सेंध लगा दी। पूरा परिवार शगुन देने के लिए लड़की के ससुराल गया था, पीछे से बदमाश देर रात घर में ताला तोड़कर दाखिल हो गए। उन्होंने अलमारी में रखे कैश, ज्वेलरी, लैपटॉप, कैमरा, 55 लाख की एफडी समेत काफी माल चोरी कर लिया। घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में उनके अंदर घुसने और बाहर निकलने की तस्वीर कैद हुई है। वे तीन थे, जिनमें से दो ही घर के अंदर दाखिल हुए। घटना के अगले ही दिन इस परिवार में लड़की की शादी थी। मामले में हुई शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। पुलिस बदमाशों को नहीं पकड़ सकी है।

15 लाख के किसान विकास पत्र और 55 लाख रुपए की एफडी भी ले गए

पीड़ित परिवार ने घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक की। इसमें पाया कि रात एक बजकर 7 मिनट पर दो चोर घर के अंदर घुसते हैं और तीसरा बाहर ही खड़ा रहता है। दोनों घर से बाहर रात एक बजकर 22 मिनट पर बाहर निकलते हैं। पुलिस के मुताबिक पेशे से सॉफ्टवेयर डेवलपर विवेक अग्रवाल (30) परिवार के साथ प्रकाश मोहल्ला गढ़ी, ईस्ट ऑफ कैलाश में रहते हैं। उनकी मां इलाहाबाद बैंक से रिटायर्ड कर्मचारी हैं। 10 जुलाई को विवेक की बहन सोनिया अग्रवाल की शादी तय थी, जिस सिलसिले में 9 जुलाई की शाम सवा छह बजे पूरी फैमिली घर में ताला लगाकर वजीरपुर ससुराल में शगुन देने के लिए गई थी। वहां से वे रात डेढ़ बजे वापस घर लौटे। उन्हें घर के मेन गेट पर लगा ताला टूटा मिला। घर का सामान इधर-उधर बिखरा था, अलमारी में रखे 2.5 लाख रुपये, 15 लाख के किसान विकास पत्र, 55 लाख की एफडी इलाहाबाद बैंक, 500 यूएस डॉलर, तीन घड़ी, सोने की ज्वेलरी अंगूठी, चेन, कान की बाली, कड़े और एक रिश्तेदार के बैग में रखे पांच हजार रुपये व सोने की ज्वेलरी गायब मिली।

वारदात के 8 मिनट बाद घर पहुंची फैमिली, बदमाश अभी नहीं पकड़े गए

पीड़ित परिवार घटना के आठ मिनट बाद घर पहुंच गया लेकिन उससे पहले ही बदमाश घर खाली करके फरार हो चुके थे। इसके बाद परिवार की ओर से मामले की जानकारी पुलिस को दी गई। अमर कॉलोनी थाना पुलिस और क्राइम टीम ने घटनास्थल पर जांच पड़ताल की और फिर विवेक के बयान पर मुकदमा दर्ज कर लिया। पीड़ित विवेक अग्रवाल ने बताया कि उनके पिता जगदीश अग्रवाल एक कंपनी में जॉब करते थे, जो वहां से रिटायर हो चुके हैं। शादी से ठीक पहले हुई इस वारदात से घर में टेंशन बढ़ गई है। खुशी के वक्त में ध्यान दूसरी ओर डायवर्ट हो गया। 10 तारीख को बहन की शादी सम्पन्न हुई, जिसके बाद वह अब पुलिस के संपर्क में हैं। मामले की जांच कर रही पुलिस इलाके में रहने वाले बदमाशों के अलावा उन लोगों के बारे में जानकारी जुटा रही है, जो इस परिवार के की पूरी जानकारी रखते थे। पुलिस को शक है कि यह वारदात मुखबिरी का नतीजा हो सकती है। सभी एंगल को ध्यान में रखकर पुलिस जांच आगे बढ़ा रही है।