• Home
  • Union Territory News
  • Delhi News
  • News
  • पता चला-पति को कैंसर है तो पत्नी इलाज के लिए नौकरी करने लगी, पति ने शक में किया मर्डर
--Advertisement--

पता चला-पति को कैंसर है तो पत्नी इलाज के लिए नौकरी करने लगी, पति ने शक में किया मर्डर

कैंसर पीड़ित पति ने शक में अपनी प|ी की ही चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। बुधवार तड़के घर की छत पर सोते समय घटना को अंजाम...

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 03:15 AM IST
कैंसर पीड़ित पति ने शक में अपनी प|ी की ही चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। बुधवार तड़के घर की छत पर सोते समय घटना को अंजाम देकर आरोपी पति फरार हो गया। आरोपी पति को 6 महीने पहले ही कैंसर पीड़ित होने का पता चला था। इसके बाद उसी के इलाज के लिए पिछले 3 महीने से आरोपी की प|ी नोएडा में अपने भाई के पास रहकर नौकरी कर रही थी। आशंका जताई जा रही है कि नौकरी के दौरान प|ी कंपनी के कुछ लोगों से बात करती थी, जिससे उसके पति को शक हो गया। इसलिए उसकी हत्या कर दी। यह घटना सेक्टर-63 स्थित छिजारसी में हुई। मृत महिला ममता (35) की शादी अजय उर्फ महेश से हुई थी। अजय और ममता ललितपुर में रहते थे। मृत महिला के भाई राहुल ने इस मामले में अपने जीजा अजय के खिलाफ कोतवाली फेज-3 में हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी की तलाश की जा रही है।



प|ी कंपनी के कुछ लोगों से बात करती थी, इसलिए शक हुआ

नौकरी के लिए दो बच्चों के साथ नोएडा में भाई के साथ रह रही थी

मृत महिला के भाई राहुल ने बताया कि 6 महीने पहले ही जीजा अजय को कैंसर होने का पता चला था। इसका पता चलते ही ममता काफी परेशान हो गई थीं। इलाज के लिए ही ममता ने भी नौकरी करने की इच्छा जताई थी। इसलिए 3 महीने पहले ही वह अपनी बेटी साक्षी (15) और बेटे संदीप (12) के साथ नोएडा में भाई के पास आकर रहने लगीं और एक कंपनी में नौकरी करने लगी थीं।



सभी पहलुओं की जांच की जा रही है : एसएचओ

उधर... प|ी को प्रेमी की बांहों में देखा तो हमला किया, घायल प्रेमी के साथ रात भर बैठी रही

नई दिल्ली| प|ी को प्रेमी की बांहों में देख युवक आग बबूला हो गया और पत्थर से हमला करके प्रेमी को घायल कर दिया। घायल की पहचान सूरज के रूप में हुई है। मामला उत्तरी दिल्ली के सिविल लाइंस थाना इलाके का है। महिला रात भर वहीं घायल प्रेमी के साथ पार्क में बैठी रही। सुबह जब आसपास के लोग सैर के लिए पहुंचे, तो उन्होंने घायल युवक के पास एक महिला को रोता देखा और सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने घायल को ट्रामा सेंटर में भर्ती करा दिया है। पुलिस ने महिला के बयान के आधार पर आरोपी संतोष के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की कोशिश के तहत केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि 25 वर्षीय मंजू लांबा असम की रहने वाली है। नौ साल पहले शादी संतोष से हुई थी। दोनों के दो बच्चे हैं। मंजू का आरोप था कि पति उसके साथ आए दिन मारपीट करता था। वह करीब छह महीने पहले पति को छोड़कर प्रेमी सूरज के साथ मजनूं का टीला इलाके में किराए के मकान में रहने लगी। मगर बीती रात ही उनसे मकान खाली करा लिया गया। दोनों सामान उठाकर बोंटा पार्क चले गए। रात करीब डेढ़ बजे दोनों पार्क में मौजूद थे। तभी मंजू का पति संतोष वहां पहुंचा और पत्थर से सूरज के सिर पर हमला कर दिया।

एसएचओ अमित कुमार सिंह ने बताया कि कई अलग-अलग एंगल से घटना की जांच की जा रही है। जिस तरह आरोपी के इलाज के लिए उसकी प|ी नौकरी कर रही थी उसके बाद भी हत्या करने को देखते हुए शक ही बड़ी वजह हो सकती है। आरोपी की लोकेशन की डिटेल लेकर उसकी तलाश की जा रही है।

पैसे का इंतजाम करके एक सप्ताह पहले ही पति को नोएडा बुलाया था

मृतका के भाई राहुल ने बताया कि पैसे का इंतजाम करने के बाद करीब एक सप्ताह पहले ही बहन ममता ने अपने पति को इलाज कराने के लिए नोएडा बुलाया। बुधवार को दिल्ली के एम्स में चेकअप के लिए ले जाना था। पिछले कुछ दिनों से प|ी की नौकरी करने को लेकर अजय कुछ कहासुनी भी कर रहा था। मंगलवार रात 2 बजे तक दोनों आपस में बात करते रहे। इसके बाद गर्मी की वजह से दोनों पति-प|ी छत पर सोने चले गए थे।

परिजनों ने बताया- सुबह 5 बजे चाकू से हमला कर भाग गया पति

घरवालों ने बताया कि बुधवार सुबह 5 बजे छत पर से ममता के जोर से चीखने की आवाज सुनाई दी। घर के लोग तुरंत जब छत पर जाते तब तक तेजी से अजय नीचे उतरकर भागने लगा। इसके बाद घर के लोग छत पर पहुंचे तो देखा कि ममता लहुलुहान हालत में पड़ी हुई थी। चाकू से गला रेतकर उसे घायल किया गया था। इसके बाद घरवालों ने उसे लेकर नजदीक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।