• Home
  • Union Territory News
  • Delhi News
  • News
  • New Delhi - नवंबर से ईरान से नहीं ले सकेंगे तेल ओपेक से खरीदना पड़ेगा महंगा क्रूड
--Advertisement--

नवंबर से ईरान से नहीं ले सकेंगे तेल ओपेक से खरीदना पड़ेगा महंगा क्रूड

एजेंसी | नई दिल्ली/वाशिंगटन अमेरिका ने भारत को ईरान से क्रूड के आयात के लिए छूट देने से इनकार कर दिया है। ईरान पर...

Danik Bhaskar | Sep 15, 2018, 02:15 AM IST
एजेंसी | नई दिल्ली/वाशिंगटन

अमेरिका ने भारत को ईरान से क्रूड के आयात के लिए छूट देने से इनकार कर दिया है। ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध 4 नवंबर से लागू होगा। उसने कहा है कि भारत समेत सभी देश इस तारीख से ईरान से क्रूड आयात बंद कर दें। ऐसा नहीं करने पर प्रतिबंध की कार्रवाई की जाएगी। गुरुवार को अमेरिकी सांसदों की एक समिति के सामने वहां के विदेश मंत्रालय की एक अधिकारी मनीषा सिंह पेश हुई थीं। उन्होंने ही यह जानकारी दी।

इराक व सऊदी अरब के बाद भारत ईरान से ही सबसे ज्यादा कच्चा तेल खरीदता है। प्रतिबंध के चलते भारत को ओपेक देशों से महंगा क्रूड खरीदना पड़ेगा। इससे पेट्रोल-डीजल के दाम और बढ़ सकते हैं।

इस बीच सरकारी सूत्रों ने बताया कि अभी अमेरिका से बात चल रही है। लेकिन अगर वह नहीं मानता है तो भारत के पास ईरान से आयात बंद करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं होगा। पिछले हफ्ते दिल्ली आए अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने कहा था कि भारत जैसे देशों के आग्रह पर विचार किया जा सकता है, लेकिन अंततः ईरान से तेल खरीदना बंद करना पड़ेगा।

1. जिन जहाजों में तेल आता है, वे भारत के पास नहीं हैं। दूसरे देशों पर अमेरिका प्रतिबंध लगा सकता है। हालांकि ईरान जहाज देने पर राजी है।

2. इन जहाजों का बीमा हमारी बीमा कंपनियां करती हैं। रिइंश्योरेंस भी जरूरी है, जो यूरोपीय या अमेरिकी कंपनियां करती हैं। इसके बिना मुश्किल होगी।

3.डॉलर में भुगतान की भी समस्या होगी। भारतीय कंपनियां और बैंक ईरान को पेमेंट विदेशी बैंकों के जरिए ही करते हैं।

सितंबर-अक्टूबर में ईरान से 45% कम आयात

6.58 लाख बैरल कच्चा तेल रोजाना ईरान से आयात हुआ अप्रैल-अगस्त में

3.70 लाख बैरल रोजाना आयात की उम्मीद है सितंबर-अक्टूबर के दौरान