--Advertisement--

चंद रूपयों के लिए रिश्तों का कत्ल: मां-बाप लव मैरिज के खिलाफ थे तो बेटे ने 2.5 लाख की सुपारी देकर करा दी दोनों की हत्या

गर्लफ्रेंड के चक्कर में पत्नी को भी छोड़ चुका था शख्स

Dainik Bhaskar

May 23, 2018, 06:23 AM IST
आरोपी पति-पत्नी आरोपी पति-पत्नी

नई दिल्ली. जाकिर नगर इलाके में पिछले महीने हुई दंपती की मौत की गुत्थी सुलझ गई है। इस मामले में पुलिस ने दंपती के बेटे अब्दुल रहमान (26) और नांगलोई निवासी नदीम खान (32) को अरेस्ट किया है। आरोपी बेटे ने बताया कि वह गर्लफ्रेंड से शादी करना चाहता था लेकिन माता-पिता खिलाफ थे। मामले का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद हुआ।

हत्याकांड में तीसरा आरोपी गुड्डू शामिल था, जिसकी तलाश जारी है। डीसीपी ने बताया 28 अप्रैल को गली नंबर 7 जाकिर नगर स्थित ए ब्लॉक के घर में दंपती की लाश मिली थी। पहले कमरे में लाश फ्लोर पर पड़ी थी। पुलिस को घर में रखे सवा 5 लाख कैश और ज्वैलरी सही हालत में मिली। दंपती की पहचान 55 वर्षीय शमीम अहमद व तसलीम बानू (50) के तौर पर हुई।

पिछले महीने हुआ था डबल मर्डर


27 अप्रैल की रात ग्यारह बजे अब्दुल ने योजना के तहत इन दोनों को कॉल कर घर बुला लिया। उस वक्त कमरे में अब्दुल के माता-पिता सो रहे थे। तीनों ने मिलकर तसलीम बानू और शमीम अहमद का दम घोंटकर मार डाला। इसके बाद अब्दुल रहमान ने बाहर से दरवाजा बंद कर दिया। दरवाजा ऑटोमेटिक होने की वजह से अंदर से अपने आप लॉक हो गया। अब्दुल ने ड्रामा कर लोगों को मौके पर एकत्रित कर लिया कि उसके माता-पिता अंदर से दरवाजा नहीं खाेल रहे हैं। फोन भी नहीं उठा रहे। इस स्थिति में लोग दरवाजा तोड़ अंदर दाखिल हुए जहां दोनों के शव मिले।

ऐसे हुआ मौत का खुलासा

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद थानाध्यक्ष संजीव कुमार व इंस्पेक्टर भारत कुमार की टीम ने मामले की जांच नए सिरे से की। पड़ोसियों, रिश्तेदारों से लेकर बेटे से बात की गई। सर्विलांस का भी सहारा लिया। चूंकि सीन ऑफ क्राइम पर लूट का एंगल सामने नहीं आया था। सोमवार को पुलिस ने बेटे से पूछताछ की। उसने माता-पिता की हत्या करने की बात स्वीकार ली। इसी की निशानदेही पर दूसरे आरोपी को नांगलोई से अरेस्ट किया।

प्रॉपर्टी अपने नाम कराना चाहता था

अब्दुल के माता-पिता इस लड़की का साथ छोड़ने की बात की थी। लेकिन अब्दुल राजी नहीं था। वह माता-पिता को मारकर पूरी प्रॉपर्टी अपने नाम करना और गर्लफ्रेंड से शादी करना चाहता था। अपने माता-पिता को मारने की साजिश रची। इसमें उसने नदीम खान व गुड्डू का सहारा लिया। अब्दुल ने इन दोनों को हत्या में शामिल किया और उन्हें ढाई लाख रु.देने का वायदा किया था।

फेसबुक पर हुई थी युवती से दोस्ती

अब्दुल ने बताया कि साल 2016 में फेसबुक पर कानपुर की लड़की से दोस्ती हुई। उनकी नजदीकियां बढ़ती गईं। लेकिन अगले वर्ष साल परिवार की मर्जी से दूसरी लड़की से शादी करनी पड़ी। शादी के बाद वह गर्लफ्रेंड से मिलने कानपुर जाता रहता था। आरोपी ने एनिमेशन में डिप्लोमा कर रखा है। वह कॉल सेंटर में जॉब करता था।

X
आरोपी पति-पत्नीआरोपी पति-पत्नी
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..