• Hindi News
  • Rajya
  • Delhi NCR
  • News
  • New Delhi News sitting in the door while landing on the moti nagar station the woman went to the end of the moving platform and fell wounded wounded

मोती नगर स्टेशन पर मेट्रो से उतरते समय दरवाजे में फंसी साड़ी, महिला घिसटती हुई प्लेटफार्म के अंत में जाकर गिरी, जख्मी

New-delhi News - शास्त्री पार्क में रहने वाली गीता की साड़ी मोती नगर स्टेशन पर उतरते समय मेट्रो में फंस गई। जब तक वो साड़ी खींच पाती तब...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 07:20 AM IST
New Delhi News - sitting in the door while landing on the moti nagar station the woman went to the end of the moving platform and fell wounded wounded
शास्त्री पार्क में रहने वाली गीता की साड़ी मोती नगर स्टेशन पर उतरते समय मेट्रो में फंस गई। जब तक वो साड़ी खींच पाती तब तक ट्रेन चल पड़ी और गीता(40) 15 मीटर तक घिसटती चली गई। कपड़े फट गए और चोटें आई हैं। मेट्रो 15 मिनट प्रभावित हुईं। मेट्रो ने दावा किया सेवाएं प्रभावित नहीं हुईं, जबकि उसी टाइम आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर सेवा में देरी की जानकारी दी गई थी। डीएमआरसी ने जांच कमेटी गठित की है।

महिला के पति ने कहा| मेट्रो की है लापरवाही, प|ी ठीक हो जाए तब करूंगा मेट्रो के खिलाफ शिकायत

गीता के पति ने भास्कर से बताया कि गीता और बेटी ट्रेन में द्वारका से चढ़े थे और मोती नगर में उतर रहे थे। सरकारी अस्पताल में 2 इंजेक्शन और दवाई देकर छुट्टी दे दी। महिला के पति का कहना है यात्री टिकट लेते हैं तो सुरक्षा की जिम्मेदारी डीएमआरसी की है, उन्हें देखना चाहिए यात्री पूरी तरह से ट्रेन से उतर चुके हैं या नहीं। उन्होंने कहा कि प|ी ठीक हो जाए तब डीएमआरसी के खिलाफ शिकायत करेंगे।

महिला ट्रैक पर नहीं स्लैब पर गिरी: डीएमआरसी

डीएमआरसी ने घटना की पुष्टि करने के साथ रिपोर्ट में कहा है कि मेट्रो लाइन-3 के वैशाली की तरफ जाने वाली ट्रेन से मोती नगर स्टेशन पर सुबह 9 :19 बजे एक महिला उतर रही थी। तभी उसकी साड़ी ट्रेन के दरवाजे में फंसी रह गई। ट्रेन ऑपरेटर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाए और ट्रेन रुक गई। डीएमआरसी का कहना है महिला ट्रैक पर नहीं गिरी थी जहां स्लैब खत्म होता है, वहां थोड़ा नीचे गिरी थी।

अस्पताल में गीता।

यात्रियों के चिल्लाने पर रोकी ट्रेन

लोगों ने महिला को घिसटते देखा तो चिल्लाने लगे। यात्रियों ने ऑपरेटर को इशारा किया। तब ऑपरेटर ने ट्रेन रोकी। यात्रियों का कहना है ट्रेन चलती है तो प्लेटफार्म पर लगे शीशे में चालक को देखना चाहिए, यहां चालक की लापरवाही है। एक बार एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक यात्री लटककर चला गया था।

पहले भी हुए हादसे| 2014 और सितंबर 2017 में भी एक स्टेशन तक मेट्रो के दरवाजे खुले होने की शिकायत सामने आई थी।

X
New Delhi News - sitting in the door while landing on the moti nagar station the woman went to the end of the moving platform and fell wounded wounded
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना